चीनी की कीमतें बढ़ाने की मांग

131

सांगली: क्रांतिवीर नागनाथअन्ना नायकवडी हुतात्मा चीनी मिल के अध्यक्ष वैभव नायकवडी ने कहा कि, चीनी की कीमतों में बढ़ोतरी चीनी मिलों की समस्याओं का एकमात्र विकल्प है। उन्होेने मांग की कि, चीनी का बिक्री मूल्य 3600 रुपये प्रति क्विंटल होना चाहिए। अगले सीजन के पेराई सत्र के लिए नायकवडी ने निदेशकों, सदस्यों, श्रमिकों और किसानों के साथ रोलर पूजा की।

सकाळ में प्रकाशित खबर के मुताबिक, नायकवडी ने कहा, चीनी की कीमतों में बढ़ोतरी पर केंद्र सरकार को फैसला लेना चाहिए। उत्पादन की लागत वर्तमान चीनी दर से अधिक है, और इसलिए किसानों को भुगतान करने में मिलों को दिक्कत आ रही है। केंद्र सरकार को चीनी के दाम बढ़ाते हुए निर्यात नीति को भी लचीला बनाना चाहिए। नायकवडी ने कहा, इस वर्ष राज्य में गन्ने का रिकार्ड उत्पादन होने की संभावना है, जिससे चीनी का उत्पादन भी बढ़ेगा।

उन्होंने कहा, केंद्र सरकार को चीनी उद्योग को राहत देने के लिए चीनी मूल्य बढ़ाने और निर्यात नीति तय करने की आवश्यकता है। हुतात्मा चीनी मिल अगले सीजन में सात लाख टन गन्ना पेराई करेगी। इसके अलावा फैक्ट्री के डिस्टिलरी प्लांट में फिलहाल प्रतिदिन तीस हजार लीटर एथेनॉल उत्पादन किया जा रहा है। इस सीजन में यह प्रतिदिन पचास हजार लीटर होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here