थाईलैंड: चीनी उत्पादन में भारी गिरावट की संभावना

224

दुबई : दुबई में एक शुगर कॉनफेरेन्स में प्रतिभागियों ने कहा कि थाईलैंड में उत्पादन में भारी गिरावट ने चीनी की कीमतों को दो साल से अधिक के उच्चतम स्तर पर पहुंचा दिया है। और अगले साल के शुरुआती संकेत बताते हैं कि एक और खराब फसल होने की संभावना है।

सूखे और कम गन्ने की कीमतों के कारण चीनी उत्पादन में गिरावट देखि जा सकती है।

एलएमसी इंटरनेशनल के प्रबंध निदेशक मार्टिन टॉड ने कहा, “चीनी बाजार फिर से काम कर रहा है, लेकिन यह तब तक ठीक से नहीं कर सकता जब तक यह नहीं मालूम होगा की थाईलैंड इस साल वास्तव में कितना चीनी उत्पादन करेगा और इसका क्या प्रभाव पड़ेगा।”

थाई शुगर मिलर्स कॉरपोरेशन के महानिदेशक, रंगसिट हियानग्रैट ने जनवरी में कहा था की थाई चीनी मिलें आमतौर पर मई की शुरुआत तक गन्ने की पेराई करती हैं, लेकिन इस साल वे गन्ने की सीमित आपूर्ति के कारण मार्च की शुरुआत में पेराई बंद कर सकती हैं।

विश्लेषक ग्रीन पूल ने सोमवार को प्राप्त एक रिपोर्ट में थाई चीनी उत्पादन के लिए इस साल के पूर्वानुमान को घटाकर 9.55 मिलियन टन कर दिया है, जो पिछले सीजन के 14.57 मिलियन टन से कम है।

कॉनफेरेन्स में प्रतिभागियों ने कहा कि गन्ने की कीमतों में गिरावट के कारण थाई किसान अन्य फसलों की ओर रुख कर रहे हैं। जिसका असर चीनी उत्पादन पर होगा।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here