देश के चीनी उत्पादन में अगले सीजन उछाल संभव..

983

पुणे : चीनी मंडी

मौसम की मार के कारण चालू सीजन में चीनी उत्पादन में गिरावट देखि जा सकती है, लेकिन जानकरों की माने तो आने वाले अगले सीजन में अच्छे मानसून के वजह से चीनी उत्पादन बेहतर रहेगा।

हालांकि मानसून का मौसम भारत की अगली अंतिम गन्ना उत्पादन का आकार तय करेगा। लेकिन फ़िलहाल उद्योग के जानकारों के मुताबिक भारत में 2020-21 सीजन में लगभग 300 लाख टन चीनी का उत्पादन होने की संभावना है, जबकि 2019-20 सीजन में 260 लाख टन की उम्मीद है।

पिछले कुछ सालों में अधिशेष चीनी के कारण केंद्र सरकार ने चीनी उद्योग को अतिरिक्त चीनी से निपटने में मदद करने के लिए कई प्रोत्साहन दिए है। चालू चीनी सीजन में, थाईलैंड के साथ साथ भारत के चीनी उत्पादन में गिरावट ने वैश्विक कीमतों को ऊपर की ओर बढ़ने में मदद की है।

इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन (इस्मा) के अध्यक्ष विवेक पिट्टी ने कहा, इस साल अच्छी बारिश के कारण, महाराष्ट्र, कर्नाटक और तमिलनाडु में अगले साल गन्ने का रकबा बढ़ेगा। विश्व चीनी संगठन ने भी उम्मीद की है सीजन 2020-21 में भारत में चीनी उत्पादन में उछाल होगी।

उत्तर प्रदेश एक नई उच्च उपज वाली किस्म के उपयोग के कारण देश का शीर्ष चीनी उत्पादक बन गया है। महाराष्ट्र चीनी उत्पादन में दुसरे स्थान पर बना हुआ है। इस सीजन कर्नाटक और महारष्ट्र में मौसम की मार के कारन चीनी उत्पादन पर असर हुआ है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here