चीनी निर्यात सब्सिडी में कटौती के कारण शुगर स्टॉक्स पर दिखा असर

255

नई दिल्ली: सरकार द्वारा चालू सीजन के लिए चीनी निर्यात सब्सिडी में कटौती का फैसला करने के बाद शुक्रवार के कारोबार में चीनी शेयरों में 5 फीसदी तक की गिरावट आई है। उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय ने कहा कि, चीनी निर्यात पर सरकारी सब्सिडी अब 4,000 रुपये प्रति टन कर दी गयी है। सरकार ने पहले चालू सीजन में 60 लाख टन चीनी का निर्यात करने के लिए 6,000 रुपये प्रति टन की सब्सिडी को मंजूरी दी थी। प्रमुख खिलाड़ियों में बजाज हिंदुस्तान शुगर का शेयर 4.8 प्रतिशत गिरकर 10.90 रुपये, बलरामपुर चीनी 2.16 प्रतिशत गिरकर 306.05 रुपये, श्री रेणुका शुगर्स 2,01 प्रतिशत गिरकर 14.59 रुपये तक गिरा।

सबसे ज्यादा प्रभावित शेयरों में सिंभावली शुगर्स है, जो 5 फीसदी की निचली सर्किट सीमा 14.79 रुपये पर पहुंच गया। धरणी शुगर्स का भी यही हाल रहा, जो अपनी सर्किट सीमा 11.55 रुपये पर पहुंच गया। शक्ति शुगर्स 3.08 फीसदी गिरकर 12.60 रुपये पर रहा। खाद्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव सुबोध कुमार ने कहा, ‘चीन की वैश्विक कीमतों में मजबूती को देखते हुए हमने चीनी निर्यात पर सब्सिडी को तत्काल प्रभाव से 2,000 रुपये प्रति टन घटाकर 4,000 रुपये प्रति टन कर दिया है। उन्होंने कहा कि, घटी हुई सब्सिडी दर 20 मई या उसके बाद के निर्यात समझौतों पर लागू होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here