विभागीय नियमों की अवहेलना पर गन्ना आयुक्त का रवैया सख्त

229

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

आयुक्त, गन्ना एंव चीनी उत्तर प्रदेश की आद्यशक्ति में विभागीय अधिकारीयों के साथ दो दिवसीय विस्तृत व गहन मासिक समीक्षा बैठक लाल बहादुर शास्री, गन्ना किसान संसथान, उत्तर प्रदेश लखनऊ के सभागार में संपन्न हुई। बैठक में गन्ना सर्वेक्षण की अघतन स्थिति की जानकारी, गन्ना विकास, गन्ना क्रय एवं भुगतान, गन्ना समितियों के क्रिया – कलापो, प्रचार – प्रसार, लेखा एवं प्रशासनिक प्रकारों से सम्भंदित बिंदुओं पर समीक्षा करते हुए गन्ना सर्वेक्षण कार्यो को प्रत्येक दशा में ३० जून, २०१९ तक पूर्ण करने तथा फर्जी सटटों को तत्काल निरश्त करने के कड़ी निर्देश दिए गए।

समीक्षा के दौरान अधिकारियों/ कर्मचारियों के सुचितापूर्ण तरीके से कार्य करने की अपेक्षा और अपने दायित्वों के निर्वहन सुचारु रूप से किये जाने के मूल्यांकन के कर्मा में श्री राजेशवर यादव, जिला गन्ना अधिकारी जिजपुर को तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए इनके विरुद्ध अनुशासनिक कार्यवाही संस्तिथ की गयी। श्री यादव द्वारा अपने दायित्वों के प्रति उदासीनता, शासकीय कार्यों के क्रियानवयन में लापरवाही बरतने, विभागीय समीक्षा बैठकों में बिना सूचना के अनुपस्तिथ रहने, कर्मचारी आचरण संहिता के अनुरूप कार्य न करने के प्रथम दृष्टया दोषी पाए गये।

प्रदेश के आयुक्त, गन्ना एवं चीनी श्री संजय.आर. भूसरेड्डी द्वारा बताया गया की राजकीय कर्मचारियों से सुचिता पूर्ण ढंग से अपने कार्य का निर्वहन किया जाना सहज ही अपेक्षेत है और कर्मचारी आचरण नियमावली के प्रतिकूल कार्य करना क्षम्य नहीं होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here