उत्तर प्रदेश की चीनी मिल में तकनीकी खराबी से गन्ना पेराई बाधित

215

बागपत (उत्तर प्रदेश)। यहां की रमाला सहकारी चीनी मिल में तकनीकी खराबी की वजह से छह घंटे तक गन्ना पेराई बधित रही, जिस पर वहां अपना गन्ना लेकर पहुंचे किसानों ने हंगामा किया। इंजीनियरों की टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद खराबी को ठीक किया, जिसके बाद पेराई फिर से चालू हो गई।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, चीनी मिल में मंगलवार सुबह चार बजे गन्ना चेन में अचानक तकनीकी खराबी आ गई और काफी मात्रा में गन्ना चेन में फंस गया। मिल कर्मचारियों ने अतिरिक्त गन्ना क्रेन से उठाकर बाहर भी निकाला मगर चेन नहीं चल पाई। इसके बाद मिल की पेराई रोक देनी पड़ी। पेराई बंद होने की सूचना पर गन्ना लेकर आए किसानों ने हंगामा शुरू कर दिया। किसानों का आरोप है कि मिल आए दिन तकनीकी खराबी के कारण बंद रहती है, जिसका खामियाजा किसानों को घंटों-घंटों मिल में खड़े रहकर उठाना पड़ता है। होली के दिन भी वे लोग समय से अपने घर नहीं पहुंच पाए। मिल के इंजीनियरों ने करीब छह घंटे की मशक्कत के बाद सुबह 10 बजे चैन को ठीक कर मिल को चालू कराया।

इस दौरान मिल में गन्ना लेकर आए किसानों की बुग्गी से दिल्ली-सहारनपुर हाईवे पर जाम लग गया, जिससे घंटों आवागमन बाधित रहा। पुलिस ने रूट को डायवर्ट करते हुए जाम की समस्या से निजात दिलाई। उधर, मिल अधिकारियों ने कहा कि गन्ना फंस जाने से चेन जाम होना एक आम समस्या है। इंजीनियरों ने कुछ ही घंटों में चेन में फंसा गन्ना निकालकर पेराई चालू करा दिया।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here