चीनी मिलों पर समझौते का उल्लंघन करने का आरोप

174

मैसूरु: गन्ने की फसल काटने के अपने वादे को तोड़ने पर बन्नारी अम्मान और महादेश्वरा चीनी मिलों के प्रबंधन से परेशान होकर बुधवार को राज्य गन्ना उत्पादक संघ के सदस्य डिप्टी कमिश्नर कार्यालय के सामने इकट्ठा हुए ताकि उनके साथ हुए विश्वासघात का विरोध किया जा सके।

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि दोनों कारखानों ने उन्हें अपनी फसल की कटाई करने का आश्वासन दिया था, और बाद में इसे पेराई करने के लिए परिवहन का भी आश्वासन दिया था, लेकिन वे इसे निभाने में विफल रहे।

एसोसिएशन के सचिव अठहल्ली देवराज ने कहा कि “कारखानों को समझौते पर हस्ताक्षर किए जाने के 12 महीनों के भीतर हमारे खेतों पर गन्ने की फसल में कटाई करनी थी, लेकिन अब 15 महीने हो गए हैं और हमारा फसल काटा नहीं गया है। अगर वे तुरंत फसल नहीं लेते हैं तो हमे बड़े पैमाने पर नुकसान होगा”

उन्होंने दो कारखानों पर दूसरे राज्यों से गन्ने की खरीद करने और स्थानीय किसानों से छोटी मात्रा में गन्ना लेने का आरोप लगाया है। देवराज ने कहा कि अगर किसान जल्द से जल्द अपनी फसल नहीं काटेंगे तो उन्हें बहुत नुक्सान होगा। अगर एक सप्ताह के भीतर हमारी समस्या का समाधान नहीं हुआ, तो हम डिप्टी कमिश्नर कार्यालय के सामने अनिश्चितकालीन धरना देंगे।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here