लॉकडाउन: गन्ना किसानों को फसल की कटाई करने की इजाजत

260

नई दिल्ली/मुजफ्फरनगर, 30 मार्च: देश में कोरोना के राष्ट्रव्यापी दुष्परिणामों के चलते अर्थव्यवस्था पर भी असर पड़ा है। कृषि और किसानों पर भी कोरोना की मार पड़ी है। बदलते हालातों में मौसम ने भी किसानों के साथ नहीं दिया है। किसानों के खेतों में कटाई चल रही है लेकिन बारिश भी गन्ना किसानों की मुश्किलें बढ़ा रही है। देश के किसानों की लॉकडाउन के कारण खडी फसलों पर असर हो रहा था। इन सभी समस्याओं को देखते हुए केन्द्र सरकार ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ते नेतृत्व में महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। अब सरकार ने नई सहुलियत देते हुए किसानों को फसल कटाई की छूट दी है।

किसानों को दी गयी छूट के मसले पर केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर से बात की गयी तो उनका कहना था कि किसान अपन खेतों में कटाई करें। मंडी में माल बेचे सरकार ने उनके लिए ये सहुलियत दी है। गन्ना किसानों के मसले पर बात करके हुए मंत्री ने कहा कि गन्ना किसान अब बिना रोकटोक के अपने खेत में कटाई करें और चीनी मिलों में गन्ना ले जा सकते है। कृषि मंत्री ने कहा कि हमें खबरें मिल रही थी कि गन्ना किसान खेत से गन्ना काट कर ले जा रहे है लेकिन लॉकडाउन के कारण उनका गन्ना ट्रेक्टर ट्रॉली में लदा रह गया है। अब सरकार ने इन किसानों को छूट दी है। सरकार की इस पहल से उत्तर प्रदेश जैसे बडे गन्ना उत्पादक राज्य में मिलों को बडे स्तर पर फायदा होने की उम्मीद है। कृषि मंत्री ने कहा कि बहुत सारी चीनी मिलें गन्ना आपूर्ति रुकने से बंद हो रही थी उनमें अब फिर से काम शुरु हो जाएगा। इससे गन्ना किसान और चीनी मिलों को आर्थिक फायदा होगा।

गन्ना किसानों और चीनी मिलों को सरकार द्वारा दी गयी ढील पर बात करते हुए बुलन्दशहर के गन्ना उत्पादक किसान नेता सुन्दरपाल सिंह तेवतिया ने कहा कि सरकार के निर्णय का हम स्वागत करते है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here