उत्तर प्रदेश के गन्ना किसानों में भुगतान को लेकर आक्रोश : वीएम सिंह 

 

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

लखनऊ : चीनी मंडी

उत्तर प्रदेश के गन्ना किसान भुगतान न होने पर राजधानी लखनऊ में विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इस रैली में हजारों किसान शामिल हुए हैं। इस दौरान राष्ट्रीय किसान मजूदर संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सरदार वीएम सिंह ने कहा, उत्तर प्रदेश के गन्ना किसानों में भुगतान को लेकर आक्रोश है, चीनी मिलें हाईकोर्ट के आदेश को भी दरकिनार कर रही है।

उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि, प्रदेश के गन्ना किसानों का भुगतान हर हाल में 14 दिनों में किया जाएगा, लेकिन वादा ज्यादा असरदार होता नहीं दिख रहा।  चीनी मिलों ने अभी भी किसानों के 6,830 करोड़ रुपए रोक रखे हैं।

www.gaonconnection.com से बातचीत करते हुए एक किसान ने कहा की “चीनी मिल से भुगतान कभी समय पर नहीं मिलता है, किसी दुकानदार से कुछ ख़रीदने जाओ तो वो नक़द में ख़रीदना पड़ेगा, यहां तो किसान की मेहनत से उगाई फ़सल उधार पर जाती है। सरकार ने कह तो दिया, किसान की आय दोगुनी कर देंगे, ऐसे ही पैसे नहीं मिलेंगे तो क्या आय दोगुनी होगी।”

गन्ना किसानो की मांग है की उनका बाकया भुगतान जल्द से जल्द हो, लेकिन काफी सारे चीनी मिल भुगतान करने में असमर्थ रही है। गन्ना नियंत्रण अधिनियम 166 के अनुसार, गन्ने के क्रशिंग के बाद किसानों को 14 दिनों के भीतर एफआरपी भुगतान करना जरूरी होता है। लेकिन इस कानून को सभी मिलों ने तोड़ दिया है।

डाउनलोड करे चीनीमंडी न्यूज ऐप:  http://bit.ly/ChiniMandiApp  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here