केन्या: कोरोना वायरस के मद्देनजर किसानों ने चीनी मिल से मांगा बकाया भुगतान

147

केन्या: पूरा विश्व कोरोना वायरस के संकट से से जूझ रहा है। इस बिच केन्या के गन्ना किसानों ने इस संकट से बाहर निकलने के लिए मिल को गन्ना बकाया भुगतान चुकाने की मांग की है। केन्या के मुहोरोनी चीनी मिल के गन्ना किसानों ने ऋण संकट में फंसी चीनी मिल से अपने SH 250 मिलियन बकाये भुगतान की मांग की है जबकि चीनी मिल के मैनेजमेंट ने इनसे फंड जुटाए जाने तक समय देने की अपील की है।

गन्ना किसानों ने इस चीनी मिल को गन्ना पहुंचाने से इंकार कर दिया है और सरकार से मांग की है कि वह चीनी मिल के ज्वांइट रिसीवर मैनेजरों को बर्खास्त करे क्योंकि ये काफी दिनों से ऑफिस में अनुपस्थित रह रहे हैं।

केनिया शुगरकेन ग्रोवर्स एसोसिएशन (केस्गा) के महासचिव रिचर्ड ओगेंडों ने कहा कि कंपनी ने पिछले एक साल से किसानों और मजदूरों दोनों का भुगतान करने में विफल रही है, वर्तमान रिसीवर प्रबंधक फ्रांसिस ओको और हारुन किरुई पिछले तीन महीनों से कारखाने में नहीं देखे गए हैं और माना जाता है कि उन्होंने अपना काम छोड़ दिया है।

हालांकि, ओको ने अपनी सफाई में कहा है कि उसे ड्यूटी पर रहते हुए एक दुर्घटना हो गई थी और उसे रिकवर होने तक ऑफिस न आने की अनुमति दी गई थी। उन्होंने कहा कि नकदी की तंगी से जुझ रही उनकी कंपनी टैक्स, वेतन और सेवानिवृत्ति बकाया सहित अन्य ओवरहेड लागतों के भुगतान करने के लिए संघर्ष कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here