उत्तर प्रदेश के गन्ना किसान बकाया भुगतान को लेकर सड़कों पर उतरेंगे

147

लखनऊ: लंबित गन्ना भुगतान को लेकर उत्तर प्रदेश में किसान नारज नजर आ रहें है। अगले साल होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के मद्देनजर, राज्य के गन्ना किसानों ने 10,000 करोड़ रुपये से अधिक के बकाया भुगतान को लेकर जुलाई में पूरे यूपी में विरोध प्रदर्शन करने का फैसला किया है। किसान नेता वी एम सिंह के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश किसान मजदूर मोर्चा के बैनर तले किसान धरना प्रदर्शन करेंगे। सिंह ने घोषणा की है कि, किसान 6-12 जुलाई के बीच जिला मुख्यालयों में विरोध प्रदर्शन करेंगे, जिसका समापन 15 जुलाई को राज्य की राजधानी लखनऊ में एक मेगा-विरोध प्रदर्शन में होगा। यूपी विधानसभा चुनावों के लिए प्रचार रैली के दौरान, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने सत्ता में आने पर गन्ना बकाया समय पर गन्ना भुगतान का वादा किया था। राज्य के गन्ना उत्पादक इस वादे को पूरा करने के लिए साढ़े चार साल से इंतजार कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लिखे पत्र में सिंह ने 2020-21 के पेराई सत्र के बकाया भुगतान के साथ-साथ पिछले सीजन के ब्याज का भुगतान न करने का मुद्दा उठाया है। लखीमपुर खीरी के पलिया तहसील के किसान पिछले 23 दिनों से बकाया भुगतान न करने पर विरोध कर रहे हैं। इन किसानों को उनके बकाया का सिर्फ 13 प्रतिशत भुगतान किया गया है और मिलों को अभी तक अपने उत्पादकों को 336 करोड़ रुपये का भुगतान करना है।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here