छत्तीसगढ़: किसानों ने गन्ना फसल से मुह फेर लिया…

282

कबीरधाम: बकाया भुगतान से परेशान किसान अब गन्ना फसल से ही मुह फेर रहे है, छत्तीसगढ़ के कबीरधाम जिले में दो चीनी मिलें होने के बावजूद इस बार गन्ना रकबा 5 हजार हेक्टेयर तक कम हो गया है। वर्ष 2018-2019 में यहां 27,458 हेक्टेयर रकबे में गन्ना लगा था, 2019 -20 में केवल 22,580 हेक्टेयर क्षेत्र में गन्ना लगाए हैं। अन्य कई राज्यों की तरह छत्तीसगढ़ में भी गन्ना बकाया भुगतान की समस्या है, किसानों को सही समय पर भुगतान नही हो रहा है।इसलिए किसान अब गन्ने की जगह अन्य फसलों को जादा तवज्जो दे रहे है।

मिलों द्वारा उत्पादित चीनी की बिक्री के लिए केंद्र सरकार ने कोटा सिस्टम तय कर दिया है।इसके मुताबिक एक महीने में कबीरधाम जिले की दोनों मिलें 24,480 क्विंटल से अधिक मात्रा में चीनी नहीं बेच सकते हैं। इस कारण उन्हें खरीदे गए गन्नों का भुगतान करने में दिक्कत हो रही है।जिसका खामियाजा किसानों को भी भुगतना पड़ रहा है, नतीजन किसानों ने गन्ने की जगह अब अन्य फसलों की ओर रुख किया है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here