कर्नाटक में गन्ना किसानों का 2 नवंबर को विरोध प्रदर्शन करने का ऐलान…

248

मैसूरु: राज्य गन्ना उत्पादक संघ के अध्यक्ष कुरुबुरु शांताकुमार ने कहा की, गन्ने के उचित मूल्य की मांग को लेकर 2 नवंबर को विरोध प्रदर्शन किया जायेगा। यहां विनोबा रोड पर जलदर्शनी गेस्ट हाउस में पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा, चीनी मिलें किसानों को गलत आंकड़े बता रही है। ऐसा पिछलें तीन साल से हो रहा है। हमने चीनी मंत्री शिवराम के साथ बैठक की। मंत्री हेब्बार ने ‘एसएपी’ मूल्य में बढ़ोतरी के बारे में मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा से बात करने का वादा किया था। लेकिन अब तक ‘एसएपी’ मूल्य में बढ़ोतरी के बारे में कुछ भी नहीं किया गया है।

कुरुबुरु शांताकुमार ने आरोप लगाया की, केंद्र और राज्य सरकार को बाढ़ राहत नहीं दे रही है और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण राज्य को धोखा दे रही हैं। बाढ़ग्रस्त उत्तर कर्नाटक के किसानों को सरकार द्वारा गन्ने, अरहर की दाल, धान, ज्वार और कपास का उचित मुआवजा देना चाहिए। उद्योगपतियों को बाढ़ प्रभावित गांवों को गोद लेने के लिए कहा जाना चाहिए। कुरुबुरु शांताकुमार ने कहा, राज्य सरकार किसानों की समस्याओं से अच्छी तरह से अवगत है, लेकिन वह कार्रवाई नही कर रहीं है। इसके चलते 2 नवंबर को हम सभी जिला मुख्यालयों पर विरोध प्रदर्शन करेंगे। इस अवसर पर किसान नेता अत्तहल्ली देवराज, केआरएस रामगौड़ा, ग्राम अध्यक्ष हुंडी वेंकटेश, बारदानपुरा नागराज, डोड्डा कटूर महादेवस्वामी और सथागल्ली बसवाराजू उपस्थित थे।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here