कर्नाटक: मैसूर शुगर फैक्ट्री को निजी कंपनी को लीज पर देने पर किसानों ने दी आंदोलन की चेतावनी…

254

मांड्या: मैसूर शुगर फैक्ट्री (मायशुगर) को राज्य सरकार द्वारा किसी निजी कंपनी को लीज पर देने पर किसान संघों ने आंदोलन की चेतावनी दी है। कुछ साल पहले तक फैक्ट्री मैसूर और मांड्या जिलों में गन्ना किसानों की रीढ़ की हड्डी रही थी, लेकिन खराब प्रबंधन के चलते मिल को बंद करना पड़ा, और साथ ही सरकार ने 400 कर्मचारियों को वीआरएस (स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना) दिया।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, राज्य सरकार निजी कंपनियों को मिल को लीज पर देने पर विचार कर रही है। पिछले हफ्ते किसानों ने प्रस्ताव के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया था। मैसूर मिल कर्नाटक की एकमात्र चीनी मिल है जिसका स्वामित्व सरकार के पास है। सरकार ने लीज प्रक्रिया की निगरानी के लिए एक उप-समिति का गठन किया है।

मंगलवार को द हंस इंडिया से बात करते हुए, राज्य रयथ संघ के अध्यक्ष बडगलापुरा नागेंद्र ने कहा कि, राज्य सरकार को एक निजी कंपनी को लीज पर देने के बजाय मिल को पुनर्जीवित करना चाहिए। उन्होंने चेतावनी दी कि, अगर सरकार लीज प्रस्ताव को आगे बढ़ाती है तो किसान आंदोलन करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here