उत्तर प्रदेश के बजट में गन्ने का मुद्दा दरकिनार: प्रियंका गांधी

219

नई दिल्ली : चीनी मंडी

यूपी के बजट पर सियासी घमासान होते दिखाई दे रहा है, पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती के बाद अब कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी जट पर सवालिया निशान खडें कर दिए है। उन्होंने योगी आदित्यनाथ सरकार पर बजेट में गन्ना मुद्दे को नजरअंदाज करने का आरोप लगाया है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को बजट को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा और कहा कि किसानों से जुड़े मुद्दों को राज्य के बजट में संबोधित नहीं किया गया है, जिसे कल योगी आदित्यनाथ ने पेश किया था। ट्विटर पर बीजेपी को आड़े हाथ लेते हुए गांधी ने कहा, उत्तर प्रदेश का बजट आ गया है। किसानों से संबंधित पशुओं की समस्या का उल्लेख नहीं किया गया है। किसानों को गन्ने के भुगतान का मुद्दा बजट से गायब है। किसानों की फसल बर्बादी के मुआवजे का मुद्दा भी गायब है। फसल की कीमत की समस्या का भी बजट में उल्लेख नहीं किया गया है। कांग्रेस नेता ने एक वीडियो भी साझा किया, जिसमें किसान अपनी समस्याओं को बयान कर रहे हैं। 1:55 मिनट की लंबी क्लिप में, प्रियंका ने वॉयस-ओवर भी किया और दावा किया कि, किसान गहरी परेशानी में हैं। वे रात में सो नहीं पा रहे हैं क्योंकि रात के समय जानवर उनके खेतों में प्रवेश करते हैं।

कल, उत्तर प्रदेश विधानसभा में विपक्ष के नेता और समाजवादी पार्टी के नेता राम गोविंद चौधरी ने भी राज्य सरकार द्वारा लाये गए बजट को गरीब विरोधी, छात्रों और किसानों का विरोधी बताया था। योगी आदित्यनाथ सरकार ने मंगलवार को वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए 5,12,860.72 करोड़ रुपये का बजट पेश किया।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here