गन्ना मजदूर के बेटे ने विधायक बनने के बाद कहा- अब राजा का बेटा राजा नहीं बनेगा

290

मुंबई: बीजेपी के नवनिर्वाचित विधायक राम सतपुते ने कहा कि एक राजा का बेटा राजा नहीं बनेगा, लेकिन वह व्यक्ति जो इसका असली हकदार है, वही राजा बनेगा। उन्होंने कहा कि एक मजदूर का बेटा होने के नाते मुझे विश्वास है कि राजा का बेटा राजा नहीं बनेंगे / जो असली हकदार होगा राजा बनेगा।

एक गन्ना मजदूर के बेटे सतपुते को हाल ही में महाराष्ट्र विधानसभा से मालशिरस निर्वाचन क्षेत्र से विधायक चुना गया है। उन्होंने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के उत्तमराव शिवदास जांकर को हराया। उन्होंने कहा कि मैं एक बहुत गरीब परिवार से ताल्लुक रखता हूं। मेरी पार्टी ने मुझ पर अपना विश्वास दर्शाया है। मेरे माता-पिता एक गन्ना मिल में काम करते थे। मेरे जीवन का सबसे अच्छा दौर तब था जब मैं छात्रों के कल्याण के लिए एबीवीपी के साथ काम कर रहा था। राष्ट्रवाद मेरे खून में है। सतपुते ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस और केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले को अपने निर्वाचन के लिए धन्यवाद दिया।

उन्होंने कहा कि मैं चुनावों से पहले बेहद व्यस्त रहता था। मुझे अपने माता-पिता से बात करने का समय नहीं मिलता था। वे मेरे दोस्तों को फोन करते थे और मेरे और मेरे काम के बारे में पूछते थे। आज मेरे माता-पिता वास्तव में खुश हैं। विपक्ष ने पैसे दिखाने की कोशिश की। चुनाव प्रचार की प्रक्रिया के दौरान लेकिन जनता ने मुझे अपना विधायक चुना। अब मुझे समाज के पिछड़े वर्गों और युवाओं के लिए भी काम करना है।

मुझे लगता है कि लोगों ने मुझे चुना है क्योंकि मैं एक युवा नेता हूं और बीजेपी शिवसेना गठबंधन ने भी जनता के लिए बहुत प्रयास किए हैं। भाजपा-शिवसेना गठबंधन को महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में पूर्ण बहुमत मिला है। भाजपा राज्य में 105 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है। शिवसेना ने 56 सीटें हासिल की हैं।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here