पाकिस्तान में गन्ना मूल्य में बढ़ोतरी की संभावना

224

लाहौर : गन्ना नियंत्रण बोर्ड (एससीसीबी) द्वारा अगले सप्ताह होने वाली बैठक में नवंबर से शुरू हो रहे पेराई सत्र के लिए गन्ने का न्यूनतम खरीद मूल्य (एमआरपी) 250 रुपये प्रति 40 किलोग्राम का प्रस्ताव रखा जा सकता है। सरकार द्वारा कृषि, खाद्य और अन्य संबंधित एजेंसियों को गन्ने का न्यूनतम समर्थन मूल्य निर्धारित करने के लिए उत्पादन की लागत तय करने के लिए कहा गया है। पिछले सीजन में कीमत 220 रुपये प्रति 40 किलोग्राम तय की गई थी। इस साल, कृषि इनपुट में वृद्धि और ट्यूबवेल के लिए उच्च बिजली दरों को देखते हुए गन्ना दर बढ़ने की संभावना है। एससीसीबी पिछले साल की दर में कम से कम 30 रुपये की वृद्धि का प्रस्ताव रखने की तैयारी कर रहा है, हालांकि गन्ना खरीद मूल्य वृद्धि को लेकर अंतिम फैसला लेने का अधिकार सरकार के पास होगा।

देश में लगातार दूसरे साल गन्ने की बुआई अपने लक्ष्य से अधिक हुई है। पंजाब के गन्ना आयुक्त मुहम्मद जमां बट्टू ने कहा की, अनुकूल मौसम की वजह से इस मौसम में अच्छी फसल की उम्मीद है। संभावित गन्ना समर्थन मूल्य के बारे में एक सवाल के जवाब में, उन्होंने कहा कि एससीसीबी द्वारा विभिन्न विभागों से इनपुट के माध्यम से फसल के उत्पादन की लागत पर चर्चा और सहमति के बाद इसका फैसला किया जाएगा। उन्होंने कहा, इस सीजन में पंजाब प्रांत छह मिलियन टन उत्पादन का आंकड़ा पार कर जाएगा और लगभग 0.4-0.5 मिलियन टन रणनीतिक भंडार उपलब्ध होगा। पिछले साल, पंजाब ने 5.7 मिलियन टन चीनी का उत्पादन किया था, जबकि 50,000 से 60,000 टन का कैरीओवर स्टॉक था।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here