एफआरपी भुगतान को लेकर स्वाभिमानी शेतकरी संगठन हुई आक्रमक

697

एफआरपी भुगतान को लेकर कृष्णा, क्रांति चीनी मील के ऑफिस में तोडफोड, ठोका ताला

कोल्हापुर /सांगली : चीनी मंडी

स्वाभिमानी शेतकरी संगठन द्वारा एकमुश्त एफआरपी के लिए आयोजित विरोध प्रदर्शन ने शनिवार को जिले में हिंसक मोड़ ले लिया। गुस्साए कृष्णा शुगर फैक्ट्री के रेठरे हरणाक्ष गाँव का कार्यालय तोड डाला और आग लगाई । घोगाव में क्रांति सहकारी चीनी फैक्ट्री का समूह कार्यालय भी आग के हवाले कर दिया

कोल्हापुर जिले के चीनी निर्माताओं ने एकमुश्त एफआरपी की बजाय 2,300 रुपये प्रतिटन देने की घोषणा की। हालांकि, सांगली जिले के भी कुछ मिलों ने 2,300 रुपये के बिल दिए हैं। इससे किसानों में गुस्से की लहर है। आंदोलन के पहले दिन, रेठरे हरणाक्ष में आंदोलनकारियों ने कृष्णा मिल के कार्यालय को अपना लक्ष बना लिया । शनिवार की सुबह, आंदोलनकारियों ने कृष्णा कार्यालय के दूसरी मंजिल में प्रवेश किया। कार्यालय फर्निचर और दस्तावेज को केरोसिन से जलाया गया। स्वाभिमानी शेतकरी संगठन के कार्यकर्ताओं ने दत्त इंडिया, शिवशक्ति, कागवाड के चीनी मिल के कार्यालयों को ताले लगाए ।

शिरोल तालुका में स्वाभिमानी शेतकरी संगठन के कार्यकर्ताओं ने शनिवार को शिरोल तालुका में भी चीनी कारखानों के कार्यालयों पर हमला किया। कार्यकर्ताओं ने शहर के जवाहर, दत्त और गुरुदत्त चीनी कारखानों के कार्यालयों पर हमला किया ।

SOURCEChiniMandi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here