तमिलनाडु चीनी उद्योग को पुनर्जीवित करने के लिए तत्काल कदम उठाने का आग्रह

206

चेन्नई: तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एडप्पादी के. पलानीस्वामी ने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से तमिलनाडु के चीनी उद्योग को पुनर्जीवित करने और लगभग 4 लाख किसानों की आजीविका की रक्षा के लिए तत्काल कदम उठाने का आग्रह किया है।

पलानीस्वामी ने चीनी मिलों द्वारा लिए गए ऋणों के पुनर्गठन का आग्रह किया। उन्होंने सीतारमण को लिखे पत्र में कहा कि बैंकों और वित्तीय संस्थानों को जल्द ही ऋण पुनर्गठन पैकेज को अंतिम रूप देने का निर्देश दिया जा सकता है। चीनी क्षेत्र को पुनर्जीवित करने के लिए कदम उठाए जाने तक, बैंकों / वित्तीय संस्थानों को कृपया इनसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड या एसएआरएफएईएसआई अधिनियम के तहत कोई कठोर कदम नहीं उठाने या डीआरटी मामलों का संदर्भ देने की सलाह दी जा सकती है।

केंद्र तमिलनाडु में मिलों को अतिरिक्त चीनी जारी करने की मंजूरी दे सकता है जिससे कि मिलों की वित्तीय तरलता में सुधार हो सके।

उन्होंने अपने एक पत्र में कहा कि बैंकों को गन्ने की खेती के लिए ऋण जारी करने को कहा जा सकता है। भले ही किसान उनके पहले के ऋण न चुकाये हों। पलानीस्वामी ने कहा कि ऋणों का यह पुनर्भुगतान चीनी मिलों द्वारा एफआरपी बकाया का भुगतान नहीं किए जाने के कारण है। उन्होंने 10 सितंबर को चेन्नई में चीनी उद्योग के साथ सीतारमण की इंटरएक्टिव मीटिंग को याद करते हुए राज्य सरकार, सिस्मा और गन्ना उत्पादकों के प्रतिनिधियों के साथ तमिलनाडु में गन्ना उत्पादकों और चीनी उद्योग के विभिन्न मुद्दों पर विचार किया। पलानीस्वामी ने कहा कि इससे हितधारकों के बीच विश्वास का स्तर बढ़ा है।

जैसा कि वित्त मंत्री द्वारा सुझाव दिया गया था, भारत सरकार, तमिलनाडु सरकार, भारतीय रिज़र्व बैंक, विभिन्न बैंकों के वरिष्ठ प्रतिनिधियों, सिस्मा के प्रतिनिधिमंडल और गन्ना उत्पादक संघों के प्रतिनिधियों के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक 24 सितंबर को चेन्नई में आयोजित की गई थी। बैठक में तमिलनाडु के चीनी उद्योग के विभिन्न मुद्दों और उद्योग को संकट से बाहर निकालने के लिए आवश्यक निवारण उपायों पर चर्चा की गई।

तमिलनाडु के ग्रामीण अर्थव्यवस्था में चीनी मिलों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई हैं, लेकिन अब मिलें संकट में फंसने से ग्रामीण अर्थव्यवस्था भी डगमगाई है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here