तमिलनाडु: गन्ना मूल्य में बढ़ोतरी की मांग की गई

278

मदुरई: तमिलनाडु शुगरकेन ग्रोवर्स एसोसिएशन से जुड़े किसानों ने शनिवार को यहां कलेक्ट्रेट के बाहर प्रदर्शन किया। इस दौरान उन्होंने केंद्र और राज्य सरकार से रिकवरी दर 9.5% के साथ गन्ने का उचित और अवशेष मूल्य (FRP) बढ़ाने का आग्रह किया। एसोसिएशन के राज्य अध्यक्ष एन पलानीचामी और राज्य महासचिव डी. रवींद्रन ने विरोध प्रदर्शन में भाग लिया। केंद्र सरकार ने 2020-21 के लिए 10 प्रतिशत की रिकवरी दर के लिए FRP को बढ़ाकर 2,850 प्रति टन कर दिया है।

पलानीचामी ने कहा, तमिलनाडु के अधिकांश गन्ने की खेती की रिकवरी लगभग 9.5% है, इसलिए, किसान केवल 2,707.50 रुपये प्रति टन के हिसाब से एफआरपी अर्जित कर पाएंगे। COVID-19 महामारी के कारण, गन्ना किसानों को भारी वित्तीय नुकसान हुआ है। इसलिए, सरकार को एफआरपी में अच्छी खासी बढ़ोतरी करनी चाहिए। प्रदर्शनकारियों ने यह भी शिकायत की कि, राज्य सरकार ने किसानों को भुगतान नहीं किया है। उन्होंने सरकार से आग्रह किया कि, चीनी मिलों द्वारा किसानों को शेष बकाया भुगतान कराया जाए।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here