तमिलनाडु सरकार ने ड्रिप इरिगेशन सिस्टम लगाने वाले गन्ना किसानों के सब्सिडी को बढ़ाया

218

कोयंबत्तूर: तमिलनाडु सरकार ने अपने खेतों में ड्रिप इरिगेशन सिस्टम लगाने के इच्छुक गन्ना किसानों के लिए सब्सिडी बढ़ाने की घोषणा की है। उनके सब्सिडी का पुनर्मूल्यांकन करके 24% से 37% तक बढ़ाया गया है। छोटे किसान जिनके पास पाँच एकड़ से कम जमीन है, को मुफ्त में पूरी सिस्टम दी जाएगी, जबकि बड़े किसान 75% सब्सिडी का लाभ उठा सकते हैं।

जिला प्रशासन ने गत सोमवार को एक बूंद अधिक फसल योजना के तहत गन्ने के खेतों में ड्रिप इरिगेशन सिस्टम लगाने के लिए सब्सिडी बढ़ा दी है। ये सब्सिडी जमीन के आकार और पानी के स्रोत के आधार पर 24,000 रुपये से 39,000 रुपये की गई है।

ऐसे किसान जिनके पास 12.5 हेक्टेयर से अधिक जमीन है, वे ड्रिप इरिगेशन सिस्टम लगाकर 75% सब्सिडी प्राप्त कर सकते हैं। उनके लिए भी सब्सिडी की सीमा को संशोधित कर 87,880 रुपये से 1,12,591 रुपये प्रति हेक्टेयर कर दिया गया है। केंद्र सरकार की योजनाओं के प्रभारी उप निदेशक टॉम सिलस ने कहा कि सब्सिडी की सीमा बढ़ा दी गई है क्योंकि फिल्टर, लेटरल पाइप, मेनलाइन पॉप्स और अन्य घटकों की लागत का पुनर्मूल्यांकन किया गया है। कुएं से ड्रिप इरिगेशन सिस्टम अधिक खर्चीला होता है, क्योंकि इसमें रेत के कण अधिक होते हैं। इसके लिए एक स्क्रीन फिल्टर के बजाय एक रेत फिल्टर लगाना पड़ता है।

कृषि विभाग ने ड्रिप इरिगेशन के लिए हार्डवेयर उपलब्ध कराने और उसे लगाने के लिए 35 से अधिक कंपनियों के साथ करार किया है। इन कंपनियों के हर जिले में एजेंट हैं। इच्छुक किसानों को अपने संबंधित ब्लॉक स्तर के अधिकारी के पास आधार कार्ड, चिट्टा, राशन कार्ड, दो फोटो और अन्य दस्तावेजों की प्रतियां जमा कराने के लिए संपर्क करना होगा।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here