उज्ज्वला योजना के तहत 8 करोड़ कनेक्शन का टारगेट समय से पहले पूरा

213

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी आज महाराष्ट्र के औरंगाबाद स्थित सेन्द्रा के एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री उज्जवला योजना (पीएमयूवाई) के अंतर्गत 8 करोड़वां कनेक्शन सौंपेंगे।

देश में गरीब परिवारों को आठ करोड़ निःशुल्क एलपीजी कनेक्शन प्रदान करने के लिए भारत सरकार ने प्रधानमंत्री उज्जवला योजना (पीएमयूवाई) की शुरुआत की थी। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के बलिया में 1 मई 2016 कोलाभार्थी को पहला कनेक्शन सौंपकर पीएमयूवाई का शुभारंभ किया था। इस योजना का उद्देश्य गरीब परिवारों को खाना पकाने के लिए स्वच्छ ईंधन उपलब्ध कराना और अस्वास्थ्यकर पारम्परिक खाना पकाने के ईंधन जैसे लकड़ी, उपले इत्यादि के उपयोग को कम करना है। एलपीजी के उपयोग से महिलाओं और बच्चों के स्वास्थ्य, पर्यावरण तथा महिलाओं की आर्थिक उत्पादकता संबंधी लाभ हुए हैं।

तीन सरकारीतेल विपणन कंपनियों जैसे आईओसीएल, बीपीसीएल और एचपीसीएल ने देश के सभी राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में योजना को कार्यान्वियत किया है और तय समयसीमा (मार्च 2020) से सात महीने पहले ही आठ करोड़ कनेक्शन देनेका लक्ष्य हासिल कर लिया है।

उत्तर प्रदेश (1.46 करोड़), पश्चिम बंगाल (88 लाख), बिहार (85 लाख), मध्य प्रदेश (71 लाख) और राजस्थान (63 लाख) राज्य पीएमयूवाई के अंतर्गत सबसे अधिक लाभार्थियों की सूची में शीर्ष पर हैं। लगभग 40 प्रतिशत लाभार्थी एससी/एसटी श्रेणी के हैं। पीएमयूवाई के कार्यान्वयन सेदेश और दुनिया के अऩ्य देशों से सराहना मिली है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here