तेलंगाना: AIKMS ने सारंगपुर चीनी मिल को फिर से शुरू करने की मांग की

135

निजामाबाद: अखिल भारतीय किसान मजदूर संघ (AIKMS) के नेता वेलपुर भुमैया ने आरोप लगाया कि, सरकार निजी कंपनियों के लाभ के लिए अपनी मिल बंद कर रही है और उन्होंने बंद सारंगपुर चीनी मिल को फिर से शुरू करने की मांग की। चीनी मिल को फिर से शुरू करने की माँग करते हुए 17 मार्च 2021 को थिरमनपल्ली गाँव में AIKMS और फैक्ट्री प्रिजर्वेशन कमेटी द्वारा शुरू की गई पदयात्रा गुरुवार को धिकपल्ले मंडल के धर्माराम और बर्दीपुर गाँवों में पहुँची।

भुमैया ने कहा कि, सारंगपुर चीनी मिल में लगभग 22,000 किसान और 500 से अधिक श्रमिक जुड़े हुए थे। मिल बंद होने से न केवल गन्ना किसानों, बल्कि हजारों अन्य लोग जो मिल पर निर्भर थे।मिल बंद होने वो लोग अपनी आजीविका खो चुके हैं। भुमैया ने आरोप लगाया कि, हालांकि किसान अभी भी गन्ने की खेती करने के लिए तैयार हैं, लेकिन कुछ लोग मिल की जमीन पर जबरन कब्जा करने की साजिश रच रहे थे। उन्होंने मांग की कि चीनी मिल को शुरू किया जाना चाहिए।इस अवसर पर AIKMS के नेता अकुला पापैया, कोंडेला सैरेड्डी, सिरपुर गांगरेड्डी, रायथू कुली संघम के नेता नायकवाड़ी नरसैया, कृष्णा गौड, पीडीएसयू के नेता राजेश्वर, प्रेमचंद और किसान उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here