तेलंगाना: चीनी मिल कर्मचारियों के आंदोलन से गन्ना किसान तनाव में…

72

संगारेड्डी : तेलंगाना में चीनी सीजन शुरू होने से पहले ही मिल कर्मियों के आंदोलन से पेराई को ब्रेक लग गया है। क्योंकि गणपति शुगर्स के कर्मचारी वेतन बढ़ोतरी की मांग को लेकर पिछले 20 दिनों से हड़ताल पर हैं। जिसके चलते गन्ना फसल तैयार होने के बावजूद किसान अपना गन्ना पेराई के लिए नहीं भेज पा रहें है। पेराई में हो रही देरी से किसान काफी परेशान है। कई अन्य किसान जो अपनी आय के लिए गणपति शुगर्स पर निर्भर हैं, वो भी मिल में हड़ताल शुरू होने से टेंशन में हैं।

द हिन्दू में प्रकाशित खबर के मुताबिक, गणपति शुगर्स के परिक्षेत्र में इस वर्ष लगभग 2.8 लाख मीट्रिक टन गन्ने का उत्पादन होने की संभावना है। इसके अलावा, जहीराबाद स्थित ट्राइडेंट शुगर्स की सीमा में उगाए गए गन्ने के भी यहां पेराई के लिए आने की उम्मीद है। मिल में 2 लाख मीट्रिक टन से अधिक गन्ना पहुंचने की उम्मीद है। अंडोल, विकाराबाद और नरसापुर क्षेत्र के किसान भी अपना गन्ना गणपति मिल लाएंगे। मिल कर्मचारियों का कहना है कि, हम पिछले 20 दिनों से आंदोलन के रास्ते पर हैं लेकिन प्रबंधन कोई जवाब नहीं दे रहा है। हम प्रबंधन से कर्मचारियों के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर करने और पेराई गतिविधि शुरू करने का अनुरोध कर रहे हैं। इस बीच, एक अधिकारी ने कहा कि, श्रम उपायुक्त द्वारा कर्मचारियों और प्रबंधन के साथ चर्चा की जाएगी और एक-दो दिन में समस्या का समाधान कर लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here