जय श्री टी और मझौलिया चीनी के विलय को बोर्ड ने मंजूरी दी

128

कोलकाता : जय श्री टी एंड इंडस्ट्रीज और मझौलिया शुगर इंडस्ट्रीज के निदेशक मंडल ने दोनों कंपनियों के विलय को मंजूरी दी है। मझौलिया शुगर, जय श्री टी एंड इंडस्ट्रीज की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है और दोनों कंपनियां एक ही व्यापर क्षेत्र से जुडी हुई हैं। निदेशक मंडल द्वारा विलय के पीछें तर्क दिया गया है की, दोनों कम्पनीयों का एक ही आर्थिक उद्देश्य और रणनीतिक लक्ष्य हैं।

कंपनी ने गुरुवार को स्टॉक एक्सचेंजों को एक अधिसूचना में कहा की, जबकि ट्रांसफ़ेरी कंपनी (जय श्री टी) चाय की खेती, निर्माण और बिक्री के व्यवसाय में लगी हुई है, वही ट्रांसफ़र कंपनी (मझौलिया) चीनी, इथेनॉल और उसके उत्पादों के उत्पादन और बिक्री के व्यवसाय में लगी हुई है। प्रतिस्पर्धी कारोबारी माहौल की भावी चुनौतियों का प्रभावी ढंग से सामना करने के लिए मजबूत क्षमता के लिए एक ही कंपनी के माध्यम से संचालन फायदेमंद होगा। विलय प्रक्रिया से ट्रांसफ़ेरी कंपनी के कारोबार में विविधता आएगी। ट्रांसफ़र कंपनी के व्यवसाय को ट्रांसफ़ेरी कंपनी के व्यवसाय के साथ लाभप्रद रूप से जोड़ा जा सकता है, जिसके परिणामस्वरूप मर्ज किए गए निकाय का विकास होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here