ज्यादा पेराई के साथ बिजनौर की मिलों के वर्तमान सीजन का समापन

188

बिजनौर: जनपद की मिलों ने पिछले साल का अपना ही पेराई रिकॉर्ड इस सीजन तोड़ दिया। पिछले साल के मुकाबले चालू पेराई सत्र में गन्ने का रकबा साढ़े 11 प्रतिशत तक बढ़ गया था, जिसका सीधा असर गन्ना उत्पादन पर दिखाई दे रहा है। लेकिन पिछले साल के मुकाबले चीनी उत्पादन थोडा कम हो गया है। पिछले साल मिलों ने 54.89 लाख क्विंटल शीरा बनाया था जबकि इस बार 62.27 लाख क्विंटल शीरा बनाया है। इस वजह से चीनी उत्पादन कम हुआ है। पिछले साल मिलों ने 132.86 लाख क्विंटल चीनी बनाई थी। इस बार पिछले साल से कम 127.29 लाख क्विंटल चीनी बनाई गई है।

अमर उजाला डॉट कॉम में प्रकाशित खबर के मुताबिक, सोमवार रात को जिले की चीनी मिलों ने अपने पेराई सत्र का समापन किया। मिलों के साथ साथ ही इस सीजन में किसानों ने कोल्हू व क्रेशरों को भी बड़ी मात्रा में गन्ना बेचा था। आपको बता दे की, पिछले साल मिलों ने 11 करोड़ 38 लाख क्विंटल गन्ने की पेराई की थी जबकि इस बार 11 करोड़ 45 लाख क्विंटल गन्ने की पेराई करने में मिलें सफल रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here