सरकार ने ‘ई 20’ ईंधन को अपनाने को लेकर सार्वजनिक टिप्पणियों को आमंत्रित किया…

284

नई दिल्‍ली: सरकार इथेनॉल उत्पादन पर जोर दे रही है ताकि देश में क्रूड ऑयल आयात कम किया जा सके। और इसी को लेकर हर तरह की मुमकिन सहायता इथेनॉल उत्पादकों को प्रदान कर रही है।

परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि, केंद्र सरकार ने इथेनॉल के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के लिए ‘ई 20’ ईंधन निति को अपनाने के लिए सार्वजनिक टिप्पणियों को आमंत्रित किया है। ‘ई 20’ ईंधन को अपनाने का मतलब है कि, ईंधन के रूप में पेट्रोल के साथ 20 प्रतिशत इथेनॉल का मिश्रण करना है। परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने इथेनॉल जैसे ‘ग्रीन फ्युएल’ को बढ़ावा देने पर जोर देते हुए कहा कि, 8 लाख करोड़ रुपये के क्रूड इंपोर्ट डिपेंडेंसी को कम करने के मद्देनजर सरकार ने यह कदम उठाया है।

परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि, सरकार वर्तमान में 22,000 करोड़ रुपये से अगले पांच वर्षों में इथेनॉल अर्थव्यवस्था को 2 लाख करोड़ रुपये तक ले जाने की इच्छा रखती है। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने एक अधिसूचना प्रकाशित की है, जिसके माध्यम से ‘ई 20’ ईंधन को अपनाने के लिए जनता से प्रतिक्रियां मांगी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here