…तो लॉकडाउन पर विचार किया जाएगा: स्वास्थ्य मंत्री टोपे

85

मुंबई: सार्वजनिक स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि, महाराष्ट्र में नए सिरे से तालाबंदी पर तभी विचार किया जाएगा, जब मेडिकल ऑक्सीजन की दैनिक मांग 800 मीट्रिक टन तक पहुंच जाए। यह बयान ऐसे दिन आया है जब महाराष्ट्र में 1600 से ज्यादा कोविड -19 मामले और 12 मौतें हुईं। इसमें औरंगाबाद से रिपोर्ट किए गए ओमाइक्रोन संस्करण के दो नए मामले शामिल हैं, ऐसे मामलों की संख्या 110 हो गई है। इस बीच, मुंबई में भी कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहें है।शुक्रवार को, राज्य सरकार ने सार्वजनिक स्थानों पर रात 9 बजे से सुबह 6 बजे के बीच पांच से अधिक व्यक्तियों के इकट्ठा होने पर प्रतिबंध लगा दिया है और कोविड -19 मामलों में तेजी को देखते हुए सार्वजनिक कार्यक्रमों में लोगों की संख्या को प्रतिबंधित कर दिया गया है।

मीडियाकर्मियों से बात करते हुए, टोपे ने कहा, लॉकडाउन पर तभी विचार किया जाएगा,जब प्रति दिन ऑक्सीजन की आवश्यकता 800 मीट्रिक टन को छू ले।मंत्री टोपे ने राज्य में चिकित्सा ऑक्सीजन की खपत की वर्तमान दर का उल्लेख नहीं किया। उन्होंने दावा किया की, राज्य में स्थिति अच्छी तरह नियंत्रण में है। हमारा दृढ़ विश्वास है कि इस समय पूर्ण तालाबंदी हमारे एजेंडे में नहीं है। हम इस तरह के चरम उपाय करके लोगों को असुविधा नहीं पहुंचाना चाहते है। हालांकि, उन्होंने आगाह किया, “कोविड -19 दिशा निर्देशों का सख्ती से पालन करना होगा। मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना अनिवार्य है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here