ट्रालियों में पड़े पड़े सूख रहा किसानों का गन्ना…

0

 

सिर्फ पढ़ो मत अब सुनो भी! खबरों का सिलसिला अब हुआ आसान, अब पढ़ना और न्यूज़ सुनना साथ साथ. यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

लखनऊ : चीनी मंडी

उत्तर प्रदेश के किसान एक तो गन्ना बकाये से परेशान है और अब चीनी मिलें उनका गन्ना क्रशिंग न करके उनकी परेशानी और बढ़ा रही  है। नगरा क्षेत्र के ताड़ीबड़ा गांव स्थित गन्ना क्रय केंद्र पर किसानों का गन्ना एक पखवारे से सूख रहा है और घोसी चीनी मिल तौल नहीं करा रही है। कई किसानों का गन्ना खेत में कटा पड़ा है, किसानों में गन्ना तौल न होने से आक्रोश है। रसड़ा चीनी मिल बंद होने के बाद क्षेत्र के किसानों ने गन्ने की फसल की बुआई कम कर दी। ऐसे ही हालात उत्तर प्रदेश के कई जिलों में दिखाई दे रहा है।सुख गन्ना देख कर किसानों की आँखे नम हो रही है, लेकिन सरकार और कोई भी जिला प्रशासन किसानों के हित में कड़े कदम उठाते हुए नही नजर आ रहा है।

उत्तर प्रदेश की रसड़ा चीनी मिल बंद होने के बाद राज्य शासन ने क्षेत्र को घोसी चीनी मिल के हवाले कर दिया। ताड़ीबड़ा गांव में गन्ना क्रय केंद्र खोल दिया गया लेकिन इस केंद्र पर गन्ना किसान अपनी गन्ना तो पहुंचा देते है, लेकिन गन्ने की तौल कब होगी, यह बताने वाला कोई नहीं है। गन्ना क्रय केंद्र पर एक पखवाड़े से गन्ना लदी दो दर्जन ट्रालियां खड़ी है। जिस पर गन्ना सूख रहा है। जिससे किसानों को तौल के बाद भी नुकसान तो होगा ही, लेकिन तौल कब होगा, यह यक्ष प्रश्न बना हुआ है। किसान चीनी मिल घोसी का चक्कर काट रहे है, लेकिन चीनी मिल के अफसरों पर कोई असर नहीं है।

डाउनलोड करे चीनीमंडी न्यूज ऐप:  http://bit.ly/ChiniMandiApp  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here