178 साल पुरानी कंपनी थॉमस कुक हुई दिवालिया; 22 हजार नौकरियां गईं

398

लंदन: ब्रिटिश ट्रैवल ग्रुप थॉमस कुक ने सोमवार को अपने आप को दिवालिया घोषित कर दिया। 178 साल पुराने थॉमस कुक को बचाने के लिए 200 मिलियन पौंड (250 मिलियन डॉलर, 270 मिलियन यूरो) की सख्त जरुरत थी और इस ऑपरेटर ने कंपनी को बचाने के लिए निजी निवेशकों का सहारा लेना चाहा था, मगर वह सफल नहीं हो सका।

थॉमस कुक ने एक बयान में कहा कि काफी प्रयासों के बावजूद कंपनी के हितधारकों और प्रस्तावित नए निवेशकों के बीच समझौता नहीं हुआ है। इसलिए कंपनी के बोर्ड ने यह फैसला किया है कि उन्हें इस कंपनी को तुरंत प्रभाव से अनिवार्य परिसमापन (लिक्विडेशन) में चले जाने के अलावा और कोई विकल्प नहीं है।

सरकार ने कहा कि उसने डेढ़ लाख से अधिक पर्यटकों के लिए यूके आने के लिए हवाई जहाजों को किराए पर लिया था। इन पर्यटकों को लाने का काम सोमवार से शुरु होना था।

एक अलग बयान में यह भी कहा गया कि थॉमस कुक के पतन और उसकी सभी उड़ानों के रद्द होने के बाद परिवहन सचिव ग्रांट शाप्स ने घोषणा की है कि सरकार और ब्रिटेन के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण ने ग्राहकों को मुफ्त में उड़ान भरने के लिए दर्जनों चार्टर प्लेन किराए पर लिये हैं। वर्तमान में विदेश में थॉमस कुक के साथ सभी ग्राहक जो अगले दो हफ्तों में यूके लौटने के लिए बुक हैं, उन्हें घर वापस लाया जाएगा।

थॉमस कुक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी पीटर फन्कोहॉसर ने इसे दुखद दिन कहा। उन्होंने कहा कि यह मेरे और बाकी बोर्ड के लिए गहरे अफसोस की बात है कि हम फंड जुटाने में सफल नहीं हो सके।

एक ग्रुप स्टेटमेंट उन्होंने कहा कि यह हमारी कंपनी के लिए एक दुखद दिन है। हम पैकेज वाले पर्यटकों के लिए हमेशा आगे रहे और हमने दुनिया भर के लाखों लोगों के लिए ट्रैवल संभव बनाया है।

दो साल पहले, मोनार्क एयरलाइंस के पतन ने ब्रिटिश सरकार को 110,000 फंसे हुए यात्रियों को वापस लाने के लिए आपातकालीन कार्रवाई करनी पड़ी थी और विमानों को किराए पर लेने के लिए तकरीबन 60 मिलियन पौंड भरना पड़ा था। थॉमस कुक के इस दिवालियापन से उसकी ट्रैवल एजेंसियों को मजबूरन काम बंद करना पड़ा है। साथ ही इसके पूरे विश्व में फैले 22000 कर्मचारियों को नौकरी से हाथ धोना पड़ा है। इसमें 9000 ब्रिटेन के निवासी हैं।

थॉमस कुक हुई दिवालिया यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here