त्रिवेणी समूह दोगुना करेगा सैनिटाइजर उत्पादन

502

लखनऊ : चीनी मंडी

भारत की सबसे बड़ी चीनी कंपनियों में से एक, त्रिवेणी समूह अगले दस दिनों में हैण्ड सैनिटाइज़र उत्पादन को दोगुना करने की योजना बना रहा है और कहा है कि, यह कोरोना वायरस महामारी जाने के बाद भी सैनिटाइज़र व्यापार में निवेशित रहना चाहते है। देश के कई अन्य चीनी उत्पादकों की तरह, त्रिवेणी ने अपने मिलों में उत्पादित एथिल अल्कोहल का उपयोग कर कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर सैनिटाइज़र की तीव्र कमी को दूर करने के लिए उत्पादन बढ़ाने का फैसला किया है। यह अगले कुछ दिनों में सैनिटाइज़र उत्पादन 4,000 लीटर से बढ़ाकर 5,000 लीटर और फिर 1 मई तक 10,000 लीटर करने की योजना बना रहा है।

बिज़नेस टुडे में प्रकाशित खबर के मुताबिक, त्रिवेणी इंजीनियरिंग एंड इंडस्ट्रीज लिमिटेड के वाइस चेयरमैन और प्रबंध निदेशक तरुण साहनी कहा की, हमने लॉकडाउन के 5 दिनों के भीतर उत्पादन शुरू कर दिया है। सैनिटाइज़र के उत्पादन में मुख्य घटक एथिल अल्कोहल है और हम ‘डब्ल्यूएचओ’ द्वारा अनुशंसित सूत्रीकरण का पालन कर रहे हैं। सैनिटाइज़र की कीमत 200 मिलीलीटर के पैक के लिए 100 रुपये है। अब तक कंपनी ने सैनिटाइज़र उत्पादन के लिए 1.5 करोड़ रुपये का निवेश किया है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here