बोनस को लेकर देवबंद चीनी मिल कर्मी और प्रबंधन में तनातनी…

643

सहारनपुर: त्रिवेणी ग्रुप के देवबंद यूनिट के प्रबंधन और मिल कर्मियों के बीच बोनस को लेकर पिछले चार दिनों से चल रही तनातनी खत्म होने का नाम नही ले रही है। बोनस की मांग को लेकर कर्मियों का धरना प्रदर्शन बृहस्पतिवार को चौथे दिन भी जारी रहा। प्रबंधतंत्र और कर्मचारियों के बीच मध्यस्थता कराने पहुंचे एसडीएम राकेश कुमार सिंह को भी बेनतीजा वापस लौटना पड़ा। कर्मचारी 16800 रुपये बोनस देने की मांग पर ही अड़े रहे।

धरने पर बैठे कर्मचारियों ने कहा कि, त्रिवेणी ग्रुप की सात में से पांच मिलों को 20 प्रतिशत यानि 16800 के हिसाब से बोनस दिया, लेकिन देवबंद यूनिट के प्रबंधतंत्र द्वारा मनमाने तरीके से 8.33 प्रतिशत के हिसाब से बोनस देना चाहता है। भेदभाव वाली नीति को कर्मचारी बर्दाश्त नहीं करेंगे। चीनी मिल के उपाध्यक्ष दीनानाथ मिश्र ने दावा किया कि, 2018-19 की बैलेंस सीट के हिसाब से बोनस दिया जा रहा है, और किसी भी कर्मचारी के साथ कोई भेदभाव नहीं किया गया है।लेकिन मिल कर्मी तो 16800 रूपये पर अड़े है, और किसी भी हाल में पीछे हटने को तैयार नही है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here