केन्या द्वारा गन्ना निर्यात पे रोक के बाद युगांडा में नयी चीनी मिल स्थापित करने की मांग

224

कंपाला : युगांडा के सांसदों ने केन्याई सरकार द्वारा गन्ने के निर्यात पर वर्तमान प्रतिबंध की पुनरावृत्ति से बचने के लिए बसोगा क्षेत्र में एक चीनी मिल के निर्माण में तेजी लाने का सरकार से आह्वान किया है। केन्या सरकार की ओर से युगांडा के गन्ने के आयात पर रोक लगाने का प्रस्ताव है। लुका नार्थ काउंटी के सांसद जॉन बेगोले ने कहा कि, दोनों देशों के बीच व्यापार समझौतों की वजह से किसानों को नुकसान हुआ है, क्योंकि वे अपने गन्ने को केन्या में निर्यात नहीं कर सकते हैं।

बागोले ने कहा, केन्या में गन्ने की ढुलाई करने वाले ट्रकों को बुसिया सीमा पर खड़ा कर दिया जाता है, जिससे गन्ना ख़राब होने से नुकसान होता है। बागोले ने 15 जुलाई को स्पीकर रेबेका कडगा की अध्यक्षता में सदन की बैठक में प्रस्ताव रखा। उन्होंने कहा कि, सरकार को केन्या के साथ व्यापार समझौतों की समीक्षा पर पुनर्विचार करना चाहिए। उन्होंने कहा, व्यापार, उद्योग और सहकारिता मंत्री और पूर्वी अफ्रीकी मामलों के मंत्री के माध्यम से सरकार को तत्काल हस्तक्षेप करना चाहिए और केन्या में अपने समकक्ष के साथ गतिरोध को हल करना चाहिए। अगर वे प्रतिबंध हटाने में विफल रहते हैं, तो केन्या से आयातित सामानों पर प्रतिबंध लगाकर युगांडा सरकार को भी प्रतिशोध लेना चाहिए।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here