चीनी मिल में पकड़ी गई घटतौली

490

बागपत: रमाला सहकारी चीनी मिल में किसानों का आरोप है की उन्होंने गन्ना तौलने में घोटाले का पर्दाफाश किया है। इसके बाद किसानों ने संबंधित चीनी मिल के अधिकारियों के खिलाफ जबरदस्त नारेबाजी की और मिल के गेट पर हंगामा किया। हंगामा कई घंटे तक चला। प्रबंधन के अधिकारियों ने हंगामी किसानों के साथ बातचीत की और वजन कांटे की जांच करवाने का आश्वासन दिया।

गत सप्ताह बागपत जनपद के किरठल गांव के एक किसान ने अपने गन्ने को पहले धर्मकांटे पर वजन करवाया। बाद में उसे रमाला चीनी मिल के गेट पर लगे वजन कांटे पर अपने गन्ने को तौलवाया। किसान का आरोप है की गन्ने का वजन 1.35 क्विंटल कम निकाला। दूसरे कांटे पर भी इसे तौला गया, वहां भी 80 किलो घटतौली थी। इससे किसान नाराज हो गए और मिल प्रबंधन के खिलाफ धोखाधड़ी और घोटाले के अंदेशे पर जबरदस्त नारेबाजी की और कई घंटे तक मिल के महाप्रबंधक आरबी राम को घेरे रखा। गन्ने की सप्लाई रोक दी गई। इससे पेराई भी प्रभावित हुआ।

महाप्रबंधक ने वजनकांटे की जांच का आश्वासन दिया और दोबारा घटतौली न हो सुनिश्चित किया। उन्होंने कहा कि आगे ऐसा हुआ तो किसानों को मिल भरपाई करेगी। किसानों के हंगामे और नारेबाजी को देखकर पुलिस भी मौके पर पहुंची और मिल के महाप्रबंधक आरबी राम को किसानों के बीच से निकाल कर सुरक्षित जगह ले गये। भाकियू के सदस्यों ने मामले को सुलझाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here