भारतीय राजनीति के लिए बहुत बड़ी क्षति: केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का निधन

212

आज भारतीय राजनीति को एक बहुत बड़ी क्षति हुई है। केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का 74 साल की उम्र में आज निधन हो गया। वे पांच दशक से अधिक समय से सक्रिय राजनीति में थे और देश के सबसे प्रसिद्ध नेताओं में से एक थे।

उनके बेटे और लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। चिराग पासवान ने अपने ट्वीट में लिखा है, “पापा….अब आप इस दुनिया में नहीं हैं लेकिन मुझे पता है आप जहां भी हैं हमेशा मेरे साथ हैं. Miss you Papa…”.

उनका कुछ दिन पहले एक अस्पताल में हृदय का ऑपरेशन हुआ था और उसके बाद से दिल्ली के अस्पताल में इलाज चल रहा था।

अपने लंबे राजनीतिक जीवन में उन्होंने हमेशा ग़रीबों, दलितों एवं वंचितों और अन्य लोगो के कल्याण के लिए काम किया। रामविलास पासवान उपभोक्ता, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मामलों के मंत्री थे। उन्होंने अपने कार्यकाल में चीनी उद्योग समेत कई क्षेत्रों में समृद्धि और विकास के लिए काम किया। उन्होंहे अपने कार्यकाल के दौरान चीनी उद्योग के लिए बहुत सारे अच्छे निर्णय लिए जिसके चलते उघोग प्रगति की राह पर चल रहा है।

उनके देहांत की खबर मिलने के बाद पुरे देश में शोक की लहर छा गयी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी शोक संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि रामविलास पासवान कड़ी मेहनत के बल पर राजनीति में ऊपर आये थे।

To Listen to this News click on the play button.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here