गन्ना बकाया भुगतान को लेकर सरकार चीनी मिलों पर हुई सख्त

Listen to this article

लखनऊ: चीनी मंडी

बार बार निर्देश देने के बावजूद उत्तर प्रदेश की कई सारी चीनी मिलों ने गन्ना बकाया भुगतान में कोताही बरती है, जिससे किसानों में काफी आक्रोश है, और वो इस स्थिती के लिए राज्य सरकार को जिम्मेवार ठहरा रहे है। जिससे दिनों दिन सरकार की मुश्किलें बढती ही जा रही है, इस स्थिति से निपटने के लिए राज्य सरकार ने सख्त कदम उठाना शुरू किया है। अब मंडलायुक्त संजय कुमार ने उप गन्ना आयुक्त को निर्देश दिया कि, यदि किसी चीनी मिल पर 31 अगस्त के बाद किसानों का गन्ना मूल्य भुगतान बकाया रहा तो उस मिल की चीनी सील कर दी जाए। संजय कुमार मंडलीय बैठक में विभिन्न विभागों की समीक्षा कर निर्देश दे रहे थे। उन्होंने चीनी मिलों पर बकाया गन्ना भुगतान को लेकर गहरी नाराजगी जताई।

उन्होंने चिकित्सकों की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के निर्देश देते हुए कहा कि सीएचसी/पीएचसी स्तर पर चिकित्सकों की रात्रि में उपलब्धता सुनिश्चित करायी जाए। अनुपस्थित पाये गये चिकित्सकों के विरुद्ध वेतन रोके जाने की कार्रवाई की जाए। सभी जिलाधिकारी हर सप्ताह में कम से कम दो दिन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के अलावा भी अस्पतालों का निरीक्षण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें। मंडलायुक्त ने बेसिक शिक्षा अधिकारियों द्वारा जनपद के सभी सरकारी विद्यालयों में विद्युत दुर्घटना रोकने के लिए समस्त विद्यालयों के निरीक्षण के निर्देश दिये।

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here