उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा गन्ना मूल्य में संशोधन के लिए प्रयास जारी…

448

लखनऊ: विधानसभा चुनावों से पहले, उत्तर प्रदेश सरकार ने बुधवार को राज्य में गन्ना दर में वृद्धि के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी है। गन्ना कीमतों पर राज्य सलाहकार समिति ने किसानों और चीनी मिल संघों सहित सभी हितधारकों के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक की। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पिछले हफ्ते यहां किसानों के एक समूह के साथ बातचीत के दौरान घोषणा की थी कि सरकार जल्द ही गन्ना के राज्य-सलाह मूल्य (SAP) में वृद्धि करेगी। अगला गन्ना पेराई सत्र पश्चिमी यूपी में 20 अक्टूबर से, मध्य यूपी में 25 अक्टूबर से और पूर्वी क्षेत्र में नवंबर के पहले सप्ताह से शुरू होने वाला है।

वर्तमान सरकार के सत्ता में आने के तुरंत बाद 2017 में गन्ने का SAP 10 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ा दिया गया था। वर्तमान SAP 325 रूपये प्रति क्विंटल है, जिसे 2017 से संशोधित नहीं किया गया है, जिसके कारण विपक्ष विधानसभा के भीतर और बाहर सरकार को निशाना बना रहा है।

हिंदुस्तान टाइम्स में प्रकाशित खबर के मुताबिक, मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी की अध्यक्षता में हुई बैठक में किसानों के प्रतिनिधियों ने अधिकारियों के अनुसार सरकार से मांग की कि SAP को लगातार चार वर्षों से संशोधित नहीं किया गया है और इस तथ्य को देखते हुए 400 रुपये प्रति क्विंटल SAP तय किया जाना चाहिए। हालांकि, चीनी मिलों का प्रतिनिधित्व करने वाले लोगों ने इस मांग पर कड़ा विरोध किया है। मिलर्स ने दावा किया है की, किसानों द्वारा मांग के अनुसार 400 रुपये प्रति क्विंटल मूल्य मिलों के भुगतान के लिए बहुत अधिक होगा।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here