उत्तर प्रदेश: गन्ने की खेती हुई स्मार्ट, 44 लाख से अधिक किसानों ने डाउनलोड किया E-ganna aap

208

लखनऊ: किसानों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध उत्तर प्रदेश सरकार गन्ना किसानों का समय पर भुगतान सुनिश्चित करने के साथ-साथ उन्हें तकनीक से जोड़ने के लिए अथक प्रयास कर रही है। किसानों के उत्थान में सरकार के नेतृत्व में निरंतर प्रयासों के परिणामस्वरूप न केवल उनकी आय में वृद्धि हुई है, बल्कि गन्ने की उत्पादकता भी बढ़ गई है।

पिछले चार वर्षों में, राज्य सरकार ने राज्य में गन्ने की खेती को बदलने का काम किया है, जिसके परिणामस्वरूप किसानों की समृद्धि हुई है। राज्य के 44.40 लाख से अधिक किसानों ने ई-गन्ना ऐप (E-ganna app) डाउनलोड किया है, जहां उन्हें सीधे उत्तर प्रदेश गन्ना विभाग से जुड़े होने का लाभ मिल रहा है। इसने किसानों को बिचौलियों की उपस्थिति से मुक्त कर दिया है। इसके अलावा, किसान अपने मोबाइल के माध्यम से सभी आवश्यक जानकारी से अवगत हो रहे हैं।

ई-गन्ना ऐप पर 81 करोड़ से अधिक हिट

यूपी में गन्ना किसानों द्वारा तकनीक के बढ़ते इस्तेमाल का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि, गन्ना विभाग के मोबाइल एप पर अब तक 81.57 करोड़ से ज्यादा हिट हो चुके हैं। वहीं स्मार्ट गन्ना किसान की वेबसाइट पर अब तक 5.1 करोड़ हिट हो चुके हैं। ये आंकड़े इस बात के गवाह हैं कि राज्य सरकार के प्रयासों ने यूपी के किसानों को तकनीक प्रेमी बना दिया है। गन्ना विभाग किसानों के लिए प्रशिक्षण सत्र की व्यवस्था करने, पर्यवेक्षकों के माध्यम से मोबाइल ऐप के बारे में जानकारी फैलाने और कृषि विशेषज्ञों और किसानों के बीच सीधा संवाद स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। इसके साथ ही विभाग ने किसानों को तकनीक से जोड़कर बिचौलियों की भूमिका को खत्म कर दिया है, जिससे विभाग और किसानों के बीच पारदर्शिता बढ़ी है ।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here