उत्तर प्रदेश: महाराष्ट्र, केरल से आने वाले यात्रियों के लिए COVID परीक्षण अनिवार्य हो सकता है

108

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने पत्र के जरिये कहा है कि, उत्तर प्रदेश में प्रतिबंध कड़े होने की संभावना है, खासकर महाराष्ट्र और केरल से आनेवाले यात्रियों के लिए COVID-१ ९ का परीक्षण अनिवार्य हो सकता है। पत्र में कहा गया है की, केरल और महाराष्ट्र से आने वाले यात्रियों पर निगरानी बढ़ने की जरूरत है। अमित मोहन ने सुझाव दिया कि, इन राज्यों से आने वाले सभी यात्रियों के लिए एंटीजन टेस्ट अनिवार्य किया जाना चाहिए। यदि रोगसूचक पाया जाता है, तो यात्री को आरटी-पीसीआर परीक्षण से गुजरना होगा। रेल मार्गों के माध्यम से राज्य में पहुंचने वाले सभी यात्री एक ही प्रोटोकॉल का पालन करेंगे। सरकार संबंधित परिवहन प्राधिकरण से रेल मार्ग या बसों आदि के माध्यम से आने वाले यात्रियों के बारे में जानकारी प्राप्त करेगी और आवश्यकतानुसार यात्रियों की निगरानी और परीक्षण करेगी।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी और जिला निगरानी इकाई के संपर्क नंबर के साथ सभी जिलों में प्रचार सामग्री लगाने के निर्देश जारी किए गए हैं। 24 फरवरी को, केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (MoHFW) ने महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, गुजरात, पंजाब, कर्नाटक, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और जम्मू और कश्मीर के लिए उच्च-स्तरीय बहु-विषयक टीमों की प्रतिनियुक्ति की है। आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार, तीन सदस्यीय बहु-विषयक टीमें राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों के प्रशासन के साथ मिलकर काम करेंगी और हाल ही में COVID19 मामलों की संख्या में वृद्धि के कारणों का पता लगाएंगी। ट्रांसमिशन की श्रृंखला को तोड़ने के लिए अपेक्षित COVID-19 नियंत्रण उपायों के लिए वे राज्यों स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ समन्वय भी करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here