उत्तराखंड: गन्ना किसानों के समर्थन में कांग्रेस विधायकों का विरोध प्रदर्शन

184

देहरादून: किसानों के समर्थन में गन्ना लेकर आए उत्तराखंड विधानसभा के कांग्रेस विधायकों को सुरक्षाकर्मियों ने मंगलवार को शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन विधानसभा में घुसने से रोक दिया। राज्य सरकार का गन्ना किसानों की समस्याओं की तरफ ध्यान आकर्षित करने के लिए कांग्रेस विधायक विधानसभा में गन्ना लेकर जा रहे थे। नियम 58 के तहत किसानों के मुद्दे पर सदन में चर्चा होनी थी। कांग्रेस विधायकों ने कहा कि, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली सरकार गन्ना किसानों की अनदेखी कर रही है। कांग्रेस विधायकों ने सरकार पर गन्ना समर्थन मूल्य निर्धारित नहीं करने का आरोप लगाया।

कांग्रेस विधायक काजी मुहम्मद निजामुद्दीन ने न्यूज़ एजेंसी ANI से बात करते हुए कहा की राज्य में 175 करोड़ रुपये का भुगतान चीनी मिलों पर बकाया है। हम चाहते हैं कि सरकार महंगाई के हिसाब से गन्ने का मूल्य निर्धारित करे। मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि उन्होंने गन्ने का भुगतान किया, लेकिन अभी तक पूरा भुगतान नहीं किया गया है। गन्ना अधिनियम कहता है कि यदि भुगतान 15 दिनों के भीतर नहीं किया जाता है, तो किसानों को देय ब्याज का प्रावधान है। हम इस मुद्दे को सदन में उठाएंगे। उत्तराखंड विधानसभा का शीतकालीन सत्र सोमवार से शुरू हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here