चीनी मिल के प्रशासनिक दफ्तर के सामने सांकेतिक धरना पर बैठने की कर्मचारियों की चेतावनी

747

बाजपुर, उत्तराखंड: चीनी मिल के कर्मचारियों में प्रबंधन के खिलाफ असंतोष बढता जा रहा है। कर्मचारियों की बैठक में फिटमेंट, अवकाश भुगतान, ओवर टाइम भुगतान, आवास आवंटन सहित 14 सूत्री मांगों को लेकर चर्चा हुई। मांगों पर हल नही निकलने पर 19 अक्टूबर को मिल के प्रशासनिक दफ्तर के सामने सांकेतिक धरना देने का ऐलान किया गया। आगामी पेराई सीजन शुरू होने के लिए अब कुछ ही दिनों का वक्‍त बचा है, और ऐसे स्थिती में मिलों के खिलाफ कर्मचारियों के आंदोलन की चेतावनी प्रशासन के सामने मुश्किले खडी होनी की संभावना है।

अमर उजाला डॉट कॉम में प्रकाशित खबर के मुताबिक, मंगलवार को मिल गेट पर आयोजित बैठक में तराई चीनी मिल मजदूर यूनियन के महामंत्री वीरेंद्र सिंह, अश्वनी, मंत्री अभय प्रकाश, चीनी मिल मजदूर सभा महामंत्री गैंदराज ने संयुक्त रूप से बताया कि, आठ अक्टूबर को विभिन्न 14 बिंदुओं पर चर्चा कर मिल महाप्रबंधक को मांग पत्र भेजा गया था। लेकिन मिल प्रबंधन ने मांगों के प्रति कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया है। हमारी मांगे पूरी नहीं होने पर 19 अक्टूबर को चीनी मिल के प्रशासनिक दफ्तर के सामने सांकेतिक धरना देने का फैसला लिया गया।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here