Vibrant Gujarat: एथेनॉल निर्माण क्षेत्र में निवेश

106

गांधीनगर: गुजरात सरकार ने मंगलवार को प्री-वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट (pre-Vibrant Gujarat Global Summit) के हिस्से के रूप में कृषि, कृषि-प्रसंस्करण और कृषि बुनियादी ढांचे के क्षेत्रों में 2,359 करोड़ रूपये के आठ समझौता ज्ञापनों (MoUs) पर हस्ताक्षर किए। एथेनॉल निर्माण के क्षेत्र में सबसे ज्यादा 1342 करोड़ रूपये के तीन समझौता ज्ञापन हुए। कंपनियों ने राज्य में धान और मक्का से एथेनॉल बनाने के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं।

नई दिल्ली स्थित आरएलजी ग्रुप के लूना केमिकल्स प्राइवेट लिमिटेड ने प्रति दिन 500,000 लीटर की क्षमता के साथ एक एथेनॉल परियोजना स्थापित करने के लिए 650 करोड़ रुपये के निवेश की प्रतिबद्धता जताई। कंपनी के गुजरात में दो विनिर्माण स्थल हैं, एक अंकलेश्वर में और दूसरा दहेज में। इसके उत्पादों में एसिटिक एनहाइड्राइड, पूर्ण अल्कोहल, एथिल अल्कोहल, नाइट्रोबेंजीन शामिल हैं। यूपीएल ने 500,000 एलपीडी की क्षमता वाले एथेनॉल प्लांट के लिए 500 करोड़ रूपये के निवेश की प्रतिबद्धता जताई है। तीसरी कंपनी, आमन्या ऑर्गेनिक्स प्राइवेट लिमिटेड, जिसने 150,000-एलपीडी एथेनॉल प्लांट स्थापित करने के लिए 192 करोड़ रूपये के लिए एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here