विनायक मेटे ने कहा, NCP प्रमुख शरद पवार करें गन्ना श्रमिकों का नेतृत्व

271

औरंगाबाद: शिव संग्राम पार्टी के प्रमुख विनायक मेटे ने NCP प्रमुख शरद पवार से गन्ना किसानों के आंदोलन का नेतृत्व करने और उनके लंबे समय से लंबित मुद्दे सुलझाने का आग्रह किया है। उन्होंने NCP प्रमुख को महाराष्ट्र और देश के नेता के रूप में संदर्भित करते हुए कहा गन्ना श्रमिकों के मुद्दों को सुलझाने की जिम्मेदारी शरद पवार को दी जानी चाहिए और उनके द्वारा लिए गए निर्णय को सभी को स्वीकार करना चाहिए।

टाइम्स ऑफ इंडिया में प्रकाशित खबर के मुताबिक, मेटे ने कहा, महाराष्ट्र में लगभग 8.50 लाख गन्ना श्रमिक हैं और गोपीनाथ मुंडे की मृत्यु के बाद इन श्रमिकों के लिए मुश्किल समय रहा है। उन्होंने बताया कि, गोपीनाथ मुंडे के समय में, गन्ना श्रमिक के साथ समझौते को तीन साल की अवधि के लिए हस्ताक्षरित किया गया था, लेकिन कुछ समय पहले, इस अवधि को पांच साल के लिए बढ़ा दिया गया है। जब गन्ना श्रमिक ठेकेदारों ने दर बढ़ोतरी की मांग की, तो सिर्फ मामूली बढ़ोतरी की गई। उन्होंने लंबे समय से लंबित मुद्दों के समाधान के लिए गन्ना श्रमिक, ठेकेदारों, चीनी मिलों और सरकारी प्रतिनिधियों के प्रतिनिधियों वाली एक स्वतंत्र समिति के गठन की मांग की।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here