आंध्र प्रदेश: भीमासिंगी चीनी मिल को फिर से शुरू करने की कोशिशें तेज

77

विजयनगरम, आंध्र प्रदेश: जिले के जामी मंडल में भीमासिंगी चीनी मिल को फिर से शुरू करने के लिए विभिन्न दलों के नेताओं ने अपने प्रयास तेज कर राज्य सरकार पर दबाव बनाने का संकल्प लिया है। उन्होंने कई जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए हैं और किसानों के साथ बैठकें की हैं ताकि उनका समर्थन जुटाया जा सके और इस मुद्दे को सरकार के संज्ञान में लाया जा सके। लोक सत्ता के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष भीसेटी बाबजी, भाकपा राज्य समिति के सदस्य एम कामेश्वर राव और जेडपीटीसी के पूर्व सदस्य बी पेदाबाबू ने विजयनगरम के विधायक के वीरभद्र स्वामी और गजपतिनगरम के बी अप्पला नरसैय्या से मुलाकात की और उनसे किसानों को समर्थन देने की अपील की। परिचालन और तकनीकी बाधाओं के कारण बंद चीनी मिल को फिर से खोलने का प्रयास किया जा रहा है।

विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं ने बताया कि, सरकार ने आश्वासन दिया था कि वे इस फसल वर्ष से मिल को चालू कर देंगे, लेकिन अभी तक यह अमल में नहीं आया है। किसानों द्वारा लगभग 40,000 टन गन्ने का उत्पादन किया जा रहा है और अब उन्हें पता नहीं है कि मिल शुरू होगी या नहीं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने भी आश्वासन दिया कि वह मिल के आधुनिकीकरण के लिए कदम उठाएंगे। अगर वह फैक्ट्री चालू हालत में होगी तो किसानों को फायदा होगा और आसपास के 10 मंडलों में आर्थिक गतिविधियां बढ़ेंगी। बाबाजी और कामेश्वर राव ने कहा कि वे यह देखने का प्रयास करेंगे कि मुख्यमंत्री अपना वादा पूरा करें।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here