…नही तो वारणा चीनी मिल की संपत्ति होगी जब्त

292

कोल्हापुर : चीनी मंडी

तात्यासाहब कोरे वारणा चीनी मिल के जब्ती आदेश पर कार्रवाई करने की मांग को लेकर जय शिवराय किसान संघठन की तरफ से पन्हाला तहसील कार्यालय के सामने धरना दिया गया। आंदोलनकारियों की बात सुनने के बाद तहसीलदार रमेश शेंडगे ने उन्हें आश्वस्त किया की, तात्यासाहब कोरे वारणा चीनी मिल द्वारा अगर अगले दस दिनों में किसानों का बकाया भुगतान नहीं किया जाता है, तो चीनी मिल पर जब्त की कार्रवाई की जाएगी।

आंदोलनकारियों ने कहा की, चीनी आयुक्त द्वारा जनवरी 2019 में ही एफआरपी बकाया भुगतान को लेकर तात्यासाहब कोरे वारणा चीनी मिल पर जब्ती की कार्रवाई करने के आदेश दिए थे और तहसील कार्रवाई को फरवरी में वो आदेश मिलने के बावजूद मिल पर कोई भी कार्रवाई नही की गई है। आज की तारीख में भी मिल पर किसानों का लगभग 34 करोड़ बकाया है, लेकिन फिर भी मिल पर कार्रवाई नही हुई है। जब तक मिल द्वारा शत प्रतिशत भुगतान नही हो जाता, तब तक मिल को पेराई लाइसेंस देने को भी आंदोलनकारियों ने मना किया है और तहसीलदार को जब्ती आदेश तुरंत लागू करने की मांग की है।

इस मौके पर, जय शिवराय किसान एसोसिएशन के अध्यक्ष यक्ष शिवाजी माने, जिलाध्यक्ष धनजी पाटिल, पन्हाला तालुका के अध्यक्ष अतुल पाटिल, किरण पाटिल (एपीपीए), उत्तम पाटिल, राहुल पाटिल दत्ता पाटिल, स्वप्निल पाटिल और अन्य उपस्थित थे।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here