चीनी मिलों को चेतावनी: किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी

238

शामली: उत्तर प्रदेश में गन्ना बकाया भुगतान की समस्या जल्द खत्म होने के आसार नही दिखाई दे रहे है, शामली चीनी मिल पर 87 करोड़, ऊन चीनी मिल पर 53 करोड़ व थानाभवन चीनी मिल पर 141 करोड़ अभी बकाया है। बकाया भुगतान से परेशान किसान जगह जगह आंदोलन कर रहे है।

शामली डीएम अखिलेश सिंह की अध्यक्षता में पिछले सत्र का बकाया गन्ना मूल्य भुगतान के संबंध में बैठक आयोजित की गई। प्रत्येक मिल का किसानों के ऊपर बकाया गन्ना मूल्य भुगतान के संबंध में जानकारी प्राप्त की। इस बैठक में शामली, उन और थानाभवन चीनी मिल के बकाया भुगतान पर चर्चा हुई। जिला गन्ना अधिकारी ने बताया कि इस पर डीएम ने कड़ी नाराजगी व्यक्त की। चीनी मिलों के महा प्रबंधकों को चेतावनी देते हुए डीएम ने कहा कि चीनी की बिक्री करते हुए किसानों का गन्ना भुगतान जल्द से जल्द करें। साथ ही साथ चीनी मिलों को चेताया गया की किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अगर बकाया भुगतान में आनाकानी की जाती है तो, मिल के खिलाफ कड़ी कार्यवाई की जायेगी।

राज्य में गन्ना किसान चिंतित हैं क्योंकि उनका पिछला बकाया अभी तक चुकाया नहीं गया है, और नया सीजन जल्द ही शुरू होने वाला है। गन्ना किसानों का दावा है कि उनकी वित्तीय स्थिति दिन-ब-दिन बिगड़ती जा रही है क्योंकि उन्हें मिलों से बकाया नहीं मिला है और वे न तो अपने परिवार का भरण पोषण कर पा रहे हैं, न ही अपने बच्चों की स्कूल फीस भर पा रहे हैं। योगी सरकार ने राज्य के चीनी मिलों को अक्टूबर 31 तक की डेडलाइन दी है गन्ना बकाया चुकाने की।

चीनी मिलों को चेतावनी यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here