खतरे के निशान से ऊपर यमुना: बाढ़ से निपटने को तैयार प्रशासन, जारी किया अलर्ट

हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में भारी बारिश के कारण हरियाणा के हथिनीकुंड बैराज के अधिकारियों ने शनिवार को यमुना नदी में अतिरिक्त पानी छोड़ा, जिससे दिल्ली और इसके आसपास के क्षेत्रों में बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है। निचले इलाकों के लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने के लिए तैयारी शुरू कर दी गई है। सिंचाई और बाढ़ नियंत्रण विभाग के एक अधिकारी ने शनिवार को बताया कि दिल्ली में यमुना नदी का जलस्तर सुबह 10 बजे 204.83 मीटर के निशान तक पहुंच गया। अधिकारी ने कहा कि ‘पानी का स्तर और बढ़ेगा’ लेकिन अभी ‘कोई खतरा’ नहीं है’।

साथ ही अधिकारी ने कहा, ‘सुबह 9 बजे हरियाणा ने हथिनीकुंड बैराज से 2,11,874 क्यूसेक पानी छोड़ा – जिसका उपयोग दिल्ली में पीने के उद्देश्यों के लिए किया जाता है – और बाद में पानी अधिक जारी किया जाएगा।’ इसके बाद 11 बजे 3,11,190 क्यूसेक पानी छोड़ा गया।

बता दें, यमुना का जलस्तर खतरे के निशान को पार करने के बाद दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को एक अलर्ट जारी किया है। निचले इलाकों के लोगों के घरों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने के लिए तैयारी शुरू कर दी गई है। एक अधिकारी ने बताया कि दिल्ली सरकार के सिंचाई एवं बाढ़ नियंत्रण विभाग ने निचले इलाकों में रह रहे 100 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के लिए तैयारियां की है।

दिल्ली, बिहार और यूपी सहित 19 राज्यों में भारी बारिश के आसार, अगले 48 घंटे बरस सकते हैं बादल
निचले इलाकों में रहने वाले लोगों के लिए बचाव कार्य के लिए नाव पहले ही तैनात कर दी गई हैं। सुरक्षा सलाह भी स्पीकर के जरिए करवा दी गई है। राहत बचाव कार्य दल का गठन किया गया है, जो इन क्षेत्रों का दौरा करके लोगों को संभावित खतरे से जागरूक कर रही हैं।

यूपी: बारिश में 49 मौत, 42 लोग घायल
उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में गुरुवार से लगातार हो रही बारिश से 49 लोगों की मौत हो गयी है। सर्वाधिक 11 मौतें सहारनपुर में हुई हैं। राहत आयुक्त कार्यालय के प्रवक्ता के मुताबिक पिछले दो दिनों में अब तक 49 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। सबसे ज्यादा 11 लोगों की मौत सहारनपुर में हुई है। बारिश से संबंधित घटनाओं में 42 लोग घायल हुये हैं जिनमें आगरा, मेरठ और सहारनपुर में पांच-पांच लोग घायल हुए हैं।

दिल्ली में यमुना खतरे के निशान के पार, बाढ़ का अलर्ट जारी, बचाव तैयारियां शुरू
उन्होंने बताया कि प्रदेश के विभिन्न हिस्सों से मिली जानकारी के अनुसार आगरा और मेरठ में छह-छह, मैनपुरी में चार, कासगंज में तीन, बरेली, बागपत और बुलंदशहर में दो-दो लोगों की मौत हुई है। वहीं, कानपुर देहात, मथुरा, गाजियाबाद, हापुड़, रायबरेली, जालौन,जौनपुर, प्रतापगढ़, बांदा, फिरोजाबाद, अमेठी, कानपुर नगर तथा मुजफ्फरनगर में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here