Domestic and industrial sanitization amidst pandemic इस विषय हुआ वेबिनार का आयोजन

115

कानपुर: राष्‍ट्रीय शर्करा संस्‍थान, कानपुर द्वारा “Domestic and industrial sanitization amidst pandemic” विषय पर webinar का आयोजन किया गया जिसमें Christ Church College, कानपुर ने भी सहभागिता की। इस webinar के मुख्‍य वक्‍ता श्री संजय अवस्‍थी, अध्‍यक्ष The Sugar Technologists Association of India, New Delhi थे। श्री संजय अवस्‍थी ने अपने उदबोधन में कोविड-19 के कारण उत्‍पन्‍न स्‍थितियों पर अपने विचार प्रकट करते हुये घरेलू एवं औ़द्योगिक क्षेत्रों में भविष्‍य में वांछित सावधानियों हेतु Standard operating procedure बनाने पर जोर दिया गया। उन्‍होंने कहा कि उद्योगों में विशेषकर स्‍वास्‍थ्‍य एवं खाद्य प्रसंस्‍करण सेक्‍टर को गुणवत्‍ता नियंत्रण एवं hygienic packaging पर कार्य करने की आवश्‍यकता होगी। राष्‍ट्रीय शर्करा संस्‍थान के प्रो. स्‍वेन ने इस संदर्भ में एक road map प्रस्‍तुत किया जो कि समाज के हर स्‍तर पर अपनाया जा सके। उन्‍होंने उद्योगों के स्‍तर पर चीनी मिलों द्वारा भविष्‍य में किये जाने वाले विशेष प्रयोसों की चर्चा की जिसमें चीनी की छोटे उपभोक्‍ता पैकटों में सैनिटाइजेशन के उपरांत बिक्री शामिल है। webinar में Christ Church College, कानपुर की डा. मीत कमल द्विवेदी ने रोजमर्रा की जिंदगी में आम आदमी द्वारा इस संदर्भ में लिये जाने वाले विभिन्‍न उपायों की चर्चा की। उन्‍होंने चार मुख्‍य बातों सोशल डिस्‍टेंसिंग, फिजिकल सैनिटाइजेशन, इम्‍युनिटी बूसटिंग एवं मेंटल स्‍ट्रेन्‍थ पर अपना व्‍याख्‍यान दिया। उन्‍होंने sanitization हेतु प्राकृतिक तौर पर उपलब्‍ध विभिन्‍न श्रोतों के बारे में बताया। Christ Church College, कानपुर के ही डा. आर के द्विवेदी ने कोविड-19 के लक्षणों, प्रभाव, उसके परीक्षण की विभिन्‍न तकनीकों एवं उसके उपचार के बारे में चर्चा की। अंत में राष्‍ट्रीय शर्करा संस्‍थान के निदेशक, प्रो. नरेन्‍द्र मोहन ने कोविड-19 के कारण जीवन शैली में परिवर्तन करने हेतु आवाहन किया। इन्‍होंने शिक्षा व अनुसंधान क्षेत्र में आवश्‍यकतानुसार परिवर्तन पर जोर दिया। इस webinar में देश के विभिन्‍न विश्‍वविद्यालयों, तकनीकी संस्‍थान, कॉलेज इत्‍यादि के 800 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here