जुलाई में थोक महंगाई दर घटी, खाद्य वस्तुओं के दाम में 11.16 प्रतिशत की गिरावट

143

नई दिल्ली: खाद्य वस्तुओं के दाम घटने से थोक मूल्य सूचकांक आधारित महंगाई जुलाई में लगातार दूसरे महीने घटकर 11.16 प्रतिशत पर आ गई, जबकि मुद्रास्फीति की वार्षिक दर पिछले महीने में 12.07 प्रतिशत थी। ईंधन और खाद्य पदार्थों की लागत में कम वृद्धि के कारण गिरावट देखी जा रही है। खाद्य मुद्रास्फीति की दर जून में 6.66 प्रतिशत से घटकर जुलाई में 4.46 प्रतिशत हो गई। ईंधन वस्तुओं की कीमतें जून में 32.83 प्रतिशत की तुलना में सालाना आधार पर 26.02 प्रतिशत बढ़ीं। वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि, प्राथमिक वस्तुओं का सूचकांक जुलाई में 1.05 प्रतिशत बढ़कर 153.4 हो गया, जो जून में 151.8 था।

कच्चे पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस (7.91 प्रतिशत), गैर-खाद्य वस्तुओं (2.35 प्रतिशत) और खाद्य वस्तुओं (0.69 प्रतिशत) की कीमतों में जून 2021 की तुलना में जुलाई में वृद्धि हुई। खनिजों के दाम (माइनस 8.11 फीसदी) जून की तुलना में जुलाई में घटे। ईंधन और बिजली का सूचकांक (0.53 प्रतिशत) बढ़कर 113.7 से 114.3 हो गया। खनिज तेल (5.41 फीसदी) के दाम जून के मुकाबले जुलाई में बढ़े। बिजली की कीमतें (माइनस 11.61 फीसदी) घट गईं, जबकि कोयले की कीमतें अपरिवर्तित रहीं।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here