चीनी मिल की वजह से लोकसभा चुनाव में मिली जीत

906

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

अहमदनगर : चीनीमंडी

राहुरी की बंद पड़ी डॉ. बी.बी. तनपुरे चीनी मिल शुरू करने से भाजपा उम्मीदवार डॉ. सुजय विखे-पाटिल की लोकसभा चुनाव में जीत आसान हुई। राहुरी के किसानों ने भाजपा उम्मीदवार डॉ. सुजय विखे-पाटिल को भर भर के वोट दिए और उन्होंने रांकापा के उम्मीदवार संग्राम जगताप को हराया।

भाजपा विधायक शिवाजी कर्डीले ने राहुरी की तनपुरे मिल में आयोजित एक कार्यक्रम में डॉ. सुजय विखे-पाटिल को भाजपा में प्रवेश करने की और बीजेपी सांसद बनाने की ऑफर दी थी। विखे को भाजपा में प्रवेश करने के बाद अहमदनगर लोकसभा क्षेत्र से उम्मीदवारी मिली। डॉ. सुजय विखे-पाटिल ने तनपुरे चीनी मिल के दो पेराई सत्र सफलतापूर्वक लिए, जिससे यहाँ के किसानों को काफी फायदा हुआ, इसी कारण राहुरी निर्वाचन क्षेत्र से विखे को चुनाव में बढ़त लेने में सफलता मिली है।

राहुरी में भाजपा की ताकत बढ़ी

डॉ. सुजय विखे-पाटिल की जीत से राहुरी निर्वाचन क्षेत्र में भाजपा की ताकत बढ़ गई है। लोकसभा चुनावों में मिले मतों को देखा जाए तो विधान सभा चुनाव में भी इसका लाभ भाजपा को मिल सकता है। विपक्षी राकांपा को आने वाले दिनों में आक्रामक होना होगा, ताकि आने वाले दिनों में खोया हुआ जनाधार वापस मिल सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here